0


 अरिजित सिंह, तुलसी कुमार और नेहा कक्कड़ सबसे लोकप्रिय राष्ट्रीय कलाकार


मुंबई : 2005 के बाद से ऑनलाइन स्ट्रीमिंग ने भारत में म्युजिक इंडस्ट्री को पूरी तरह से बदल दिया है। पॉप, ईडीएम और हिप हॉप को 2018 में भारत के युवाओं ने सबसे ज्यादा पसंद किया था और 2019 में भी यह जारी रहा। दक्षिण एशिया की सबसे बड़ी संगीत स्ट्रीमिंग सेवा जियोसावन ने जनवरी और सितंबर 2019 के बीच अपने प्लेटफॉर्म पर डेटा का विश्लेषण कर देश भर में नवीनतम डिजिटल स्ट्रीमिंग पैटर्न को मैप करने की कोशिश की है। 
जियो सावन द्वारा पहचाने गए सबसे सकारात्मक रुझानों में देश में गैर-बॉलीवुड म्युजिक की बढ़ती लोकप्रियता शामिल थी, जहां क्षेत्रीय भाषा के म्युजिक ने टॉप-स्ट्रीम गीतों में 20% का योगदान दिया। जियो सावन पर नेहा कक्कड़, अरिजीत सिंह और तुलसी कुमार लोकप्रिय भारतीय कलाकारों में से थे, जबकि एलन वॉकर, शॉन मेंडेस और एड शीरन टॉप तीन लोकप्रिय अंतरराष्ट्रीय कलाकारों में शामिल थे।
हिंदी के बाद पंजाबी यूजर्स के बीच सबसे लोकप्रिय भाषा थी, जिसमें म्युजिक स्ट्रीमिंग में 290% साल-दर-साल वृद्धि दर्ज की और जनवरी से सितंबर 2019 के बीच 2.09 बिलियन स्ट्रीमिंग दर्ज की गईं। तेलुगु और तमिल संगीत ने बराबरी से वृद्धि दर्ज की, जो क्रमशः 380% और 272% है।
मूड जैसे कारक भारतीयों की स्ट्रीमिंग वरीयता में बड़ी भूमिका निभाते हैं, जैसा कि मूड-आधारित प्लेलिस्ट और गीतों की बढ़ती लोकप्रियता पर प्रकाश डाला गया है। ये बेबी.. ने जिम प्रेमियों का दिल जीता और 32 मिलियन से अधिक स्ट्रीम्स में यह सबसे लोकप्रिय फिटनेस गीत था। अपना टाइम आयेगा रैप को लोकप्रिय बनाने में सफल रहा है और इसे 73 मिलियन से अधिक स्ट्रीम्स के साथ नए लोगों ने सुना।   
जब बात गानों की आती है, तो ‘वे माही’, ‘तेरा बन जाउंगा’ और ‘दुनिया’ सभी भाषाओं में प्लेटफार्म पर सबसे अधिक बार सुने गए गानों में से थे। ‘सेनोरिटा’, ‘ऑन माई वे’ और ‘फेडेड’ सबसे ज्यादा स्ट्रीम किए गए अंग्रेजी गाने रहे, वहीं अंतरराष्ट्रीय म्युजिक में पॉप सबसे लोकप्रिय ज़ोनर रहा।

Post a comment

 
Top