0

मुंबई : एमसीएक्स पर गोल्ड फ्यूचर्स ने वीकेंड में अच्छा प्रदर्शन किया। 50,000 रुपए से अधिक पर कारोबार किया और 50,300 / 10 ग्राम सोना रहा। निचले स्तर पर 49,551 रुपए पर कारोबार किया और डॉलर की कमजोरी की वजह से इस पर असर दिखा। इसके अलावा, वैक्सीन ट्रायल्स कर रही बायोटेक फर्मों की ओर से आने वाली सकारात्मक खबरों की वजह से, साथ ही अमेरिकी मौद्रिक राहत की चर्चा की खबरें भी आ रही हैं। यहां तक कि प्रेसिडेंट-इलेक्ट जो बाइडेन ने भी महामारी से निपटने के अधिक सख्त प्रयासों के संकेत दिए हैं, जिसने पीली धातु को नए सप्ताह की शुरुआत में बेहतर प्रदर्शन करने का मौका दिया है। 

एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के नॉन एग्री कमोडिटी एंड करेंसी रिसर्च एवीपी प्रथमेश माल्या ने बताया कि दिवाली के बाद भी सोने की मांग बनी हुई है, जिसने सोने की कीमतों को और प्रभावित किया है। यहां तक कि गोल्ड स्पॉट की कीमतें भी पीछे नहीं आ रही हैं, और 50,199 रुपए पर आंकी जा रही हैं। आज सुबह कॉन्ट्रेक्ट लगभग 50,400 रुपए पर यानी 0.24% अधिक पर कारोबार कर रहे थे। हालांकि, घरेलू बाजारों में कीमतों में मामूली उतार-चढ़ाव होने की उम्मीद है। एमसीएक्स में सोने की कीमतों में घट-बढ़ की उम्मीद है।

कच्चा तेल: स्पॉट क्रूड में कोई बदलाव नहीं दिखा था, इसकी कीमत 3,124 रुपए प्रति बैरल थी। कमजोर डॉलर के बीच इसने एक पॉजिटिव ट्रेजेक्टरी दिखाई है। संभावनाएं प्रबल है, क्योंकि कीमतों में 2.05% की वृद्धि देखी गई है, वर्तमान में 3,193 रुपए प्रति बैरल पर आंकी गई है। 

एक बार फिर इसी तरह के कारणों ने कच्चे तेल में बढ़त बनाए रखी है। उम्मीद है कि ओपेक+ देश आने वाले महीनों में उत्पादन पर नजर रखेंगे, इस उम्मीद के साथ कि नवंबर की बैठक में अगले 3 से 6 महीने के लिए उत्पादन में कटौती का फैसला होगा। ग्लोबल स्तर पर ब्रेंट क्रूड 0.4% बढ़कर 45.13 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया, जबकि डब्ल्यूटीआई क्रूड 0.1% बढ़कर 42.46 डॉलर प्रति बैरल हो गया।

Post a comment

 
Top