0

मुंबई : वित्तीय क्षेत्र से बढ़ावा मिलने के साथ, शेयर बाज़ारों में लगातार 10वें दिन बुल पूरे दिन बढ़त हासिल करता रहा। अंतिम डेढ़ घंटे में बाज़ारों में काफी तेज़ी देखने को मिली। दोपहर 2 बजे के बाद से सत्र समाप्त होने तक निफ्टी 50 ने लगभग 110 अंक की बढ़त हासिल की और 11,971 पर या 0.31% ऊपर बंद हुआ, जबकि सेंसेक्स इस अवधि के दौरान 387 अंक की बढ़त के साथ 40,794 अंक (0.42%) पर बंद हुआ।

माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा ऋण स्थगन के मुद्दे पर सहायक निर्णय देने के बाद बैंकिंग स्टॉक ऊपर उठे। अच्छे क्यू2 परिणामों से समर्थित, इस कदम ने बड़े पैमाने पर बैंकिंग शेयरों और बाज़ार पर ज़ोर दिया।

एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के प्रमुख सलाहकार अमर देव सिंह ने बताया के सेंसेक्स में, बजाज फिनसर्व ने 3.87% और बजाज फाइनेंस ने 3%, आईसीआईसीआई बैंक (2.69%), इंडसइंड बैंक (2.34%) और एसबीआई (2.25%) ने मुनाफ़ा कमाया। दूसरी ओर, 50-स्टॉक बैरोमीटर निफ्टी 50 में बजाज फिनसर्व (3.96%), एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस (3.06%), और बजाज फाइनेंस (3.04%) ने भी मुनाफ़ा कमाया। एलएंडटी (2.09%), टाटा स्टील (1.95%), और ग्रासिम इंडस्ट्रीज (1.89%) भी सबसे ज्यादा लाभ कमाने वालों में रहे।

निफ्टी में, घाटा झेलने वाले स्टॉक्स में विप्रो सबसे आगे था, जो दिन के कारोबार के दौरान 6.78% तक गिर गया। एनटीपीसी, ओएनजीसी, कोल इंडिया और पावर ग्रिड सहित पावर स्टॉक्स में भी क्रमश: 4.3%, 3.04%, 2.9% और 2.12% की गिरावट दर्ज की गई। वे सेंसेक्स में भी सबसे ज्यादा घाटे वाले स्टॉक्स में शामिल थे, इसके बाद टेक महिंद्रा (2.13%), इंफोसिस (1.89%), और एचसीएल टेक्नोलॉजीज़ (1.15%) जैसे आईटी शेयर थे। नेस्ले ने बीएसई में 0.01% के बदलाव के साथ डूजी परफॉर्म किया।

वॉल्यूम: निफ्टी में, विप्रो, एनटीपीसी, टाटा मोटर्स और एसबीआई भारी कारोबार वाले शेयरों में से थे। नेस्ले इंडिया और श्री सीमेंट जैसे स्टॉक्स में निवेशकों ने बहुत ज्यादा दिलचस्पी नहीं दिखाई।

वैश्विक बाज़ार: यू.एस. के राहत पैकेज को लेकर अनिश्चितता के बीच वैश्विक बाज़ारों में बड़े पैमाने पर एक-तरफ़ा कारोबार हुआ। के.ओ.एस.पी.आई. और एसएसई कंपोजिट क्रमश: 0.94% और 0.56% नीचे बंद हुए जबकि हैंग सेंग और निक्केई ने क्रमश: 0.07% और 0.11% की बढ़त हासिल की।

डॉलर बनाम भारतीय रुपया: रुपया ने 73.37 से 73.40 के स्तर के आसपास एक मजबूत प्रतिरोध के साथ डॉलर के मुकाबले 34 पैसे की बढ़त हासिल की। सत्र के अंत में, यह एक डॉलर के मुकाबले 73.29 रुपये पर बंद हुआ।

Post a comment

 
Top