0



नवी मुंबई : हाल ही में खाण्डेश्वर नवी मुंबई में रोटरी क्लब पनवेल महोत्सव में सुधा साहित्य सामाजिक संस्था द्वारा आयोजित काव्य संध्या कार्यक्रम की शुरुआत राष्ट्रीय गान से हुई उसके बाद रोटरी क्लब की विडिओ क्लिप दिखाई गई।
पूजा सिंह द्वारा सरस्वती वंदना कर उनका आवाह्न किया गया।
कार्यक्रम की शुरुआत में अश्विनी उम्मीद ने अपनी रचनाओं से कार्यक्रम में रंग भर दिया। मीनल वसमतकर ने हिंदी कविता और मराठी में गजल प्रस्तुत की। प्रकाश चंद्र झा ने समसामयिक विषय मंहगाई पर बेहतरीन व्यंग्यात्मक कविता सुनायी। रंजना करकरे ने हिंदी और मराठी काव्य पुष्पों से काव्य संध्या को अलंकृत किया। दिवाकर विश्वनाथ वैश्पायन ने बहुत अच्छी रचना सुनाई। भोपाल से पधारे साहित्यकार किशन तिवारी ने श्रोताओं पर काव्य रस का प्रभाव जमाये रखा।
रजनी साहू 'सुधा' ने किसान की व्यथा पर आधारित 'क्या बोऊँ क्या काँटू' सुनायी।
पूजा सिंह ने कर्णप्रिय गीत से  मंत्रमुग्ध कर दिया।
मुख्य अतिथि फिल्म अभिनेत्री और साहित्यकार ऊषा मौर्या ने दादी के ऊपर रचना सुनाई और फिल्म अभिनेता सलीम खान ने सभी का आभार प्रकट किया।
सुधा साहित्य सामाजिक संस्था की अध्यक्ष रजनी साहू को संस्था की सचिव गायत्री देवी साहू और उपाध्यक्ष संतोष साहू ने बहुत बहुत शुभकामनाएं दी।
कार्यक्रम की समाप्ति पर रोटरी क्लब पनवेल ने सुधा साहित्य संस्था को सम्मानित किया और सुधा साहित्य संस्था द्वारा रोटरी क्लब का आभार व्यक्त किया गया।

गायत्री साहू

Post a comment

 
Top