0


रविवार दिनांक 1 मार्च को श्री राम सागर बिल्डिंग परिसर, साईबाबा नगर, भायंदर पूर्व में हस्ताक्षरम् साहित्यिक व सामाजिक संस्था की पंचम मासिक काव्यगोष्ठी संपन्न हुई। इस अवसर पर संस्था के मार्गदर्शक सरस पांडेय का 58 वां जन्मदिन बड़ी धूमधाम के साथ मनाया गया। सरस पांडेय ने एक शिक्षक के रुप में मुंबई महानगर को अपनी सेवाएं प्रदान की है। यह उनके सेवानिवृत्ति का भी समारोह था, शिक्षण क्षेत्र तथा साहित्य जगत के उनके तमाम साथियों ने इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया तथा सरस के साथ अपने सन्समरणों को साझा किया।
काव्यगोष्ठी की अध्यक्षता शिवधनी पांडेय ने व संचालन जयप्रकाश सिंह ने किया। अतिथियों में एन. बी. सिंह "नादान" व प्रमोद कुश "तनहा" मंचासिन थे। कवियों में माता कृपाल उपाध्याय, पं. शिवप्रकाश जौनपुरी, तरूण "तनहा", श्रीनाथ शर्मा, विनोद मिश्रा, डाँ. वर्षा सिंह, डाँ. मृदुल "महक", उपेंद्र पाण्डेय, इंदु मिश्रा, सुमन तिवारी, शालू मिश्रा "अपराजिता" अमरनाथ द्विवेदी, विजय नाथ मिश्र, रासबिहारी पाण्डेय, बी. बी. चौबे, एस. के. मिश्रा व अल्हड़ असरदार ने काव्यपाठ किया। सामयिक, राजकीय व सामाजिक विषयों के साथ साथ प्रकृति व फागुन के भी शब्दचित्र प्रस्तुत किऐ गए।
नौजवानों के आग्रह पर केक सेरेमनी व सम्मान की औपचारिकता को सरस पांडेय ने सहर्ष स्वीकार किया व अपने द्वारा शिक्षित विद्यार्थीयों, अभिन्न मित्रों व पड़ोसियों की उपस्थिति व कवियों द्वारा काव्यपाठ के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।

Post a comment

 
Top