0


 मुंबई: रवि गायकवाड़ एक बहुमुखी व्यक्तित्व हैं, जो जीवन के सभी क्षेत्रों में अपना मार्ग प्रशस्त करने के लिए जाने जाते हैं। अभी हाल ही में उन्हें उनकी सेवाभाव व व्यवसाय कुशलता के लिए नेल्सन मंडेला वर्ल्ड ह्यूमनिटेरियन अवार्ड से सम्मानित किया गया।

 यह प्रतिष्ठित पुरस्कार उन्हें मानवता की सेवा के प्रति समर्पण के लिए दिया गया था जिसके वे हकदार हैं।

 पुणे शहर में जन्मे रवि एक जाने-माने शिक्षाविद, खिलाड़ी और परोपकारी व्यक्ति हैं। उन्होंने बहुत कम उम्र से ही स्टारडम हासिल करना शुरू कर दिया था, वर्तमान में वह कई प्रतिष्ठित पुरस्कार जीतने के लिए सुर्खियों में हैं जैसे: सोशल वेलफेयर श्रेणी में मिड-डे शोबिज आइकॉन अवार्ड्स 2020 का लाइफटाइम अचीवमेंट, लिजेंड दादासाहेब फाल्के अवार्ड। ऐसा लगता है जैसे पुरस्कार उनके लिए अंतहीन रूप से बरस रहे हैं।

 आरटीओ ठाणे के प्रमुख रवि गायकवाड़ स्व-निर्मित शब्द को सही मानते हैं। अपनी सहानुभूति की क्षमता से रवि मीडिया व लोगों के बीच लोकप्रिय हैं।

 रवि हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया और शांत भारत सुरक्षित भारत के चेयरमैन भी हैं, एक ऐसा ट्रस्ट जो सामाजिक कल्याण के लिए पूरे समर्पण के साथ जुड़ा है। समाज में अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए वे धर्मार्थ योगदान भी करते हैं।

 रवि गायकवाड़ को कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है, जिसमें सड़क सुरक्षा विश्व श्रृंखला के माध्यम से लोगों को शिक्षित करने के लिए सीएसआर टाइम्स अवार्ड 2020 और राष्ट्र निर्माण में उल्लेखनीय योगदान के लिए मैन ऑफ एक्सीलेंस अवार्ड 2020 उन्हें प्राप्त हुआ है। साथ ही वॉकहार्ट फाउंडेशन द्वारा लाइफ टाइम वर्ल्ड पीस एम्बेसडर अवार्ड भी मिला है।

इन सभी उपलब्धियों के अलावा सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए सबसे बड़ी बाइक रैली और हैंडबॉल प्रतियोगिता के आयोजन के कारण रवि गायकवाड़ दो गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स धारक भी बने हैं।

Post a comment

 
Top