0


महज़ 30 मिनट की मोहलत है जैमिनाई कुकिंग ऑयल्‍स, सर्वे से हुआ खुलासा

नवी मुंबई : जेमीनाई कुकिंग ऑयल्‍स द्वारा हाल में महाराष्‍ट्र के 10 शहरों में कराए सर्वेक्षण से खुलासा हुआ है कि राज्‍य में 10 में से 6 महिलाएं खाना पकाने पर खर्च होने वाले समय में कटौती चाहती हैं ताकि वे अपने शौक और अपने जुनून या जज्‍़बे पर ज्‍यादा वक्‍़त दे सकें। #IgnitingAspirations सर्वे से यह भी खुलासा हुआ है कि 40 से 45 साल के आयुवर्ग वाली 61 प्रतिशत महिलाएं अपना ज्‍यादातर समय घर-गृहस्‍थी के काम पर खर्च करती हैं, जिनमें कुकिंग और बच्‍चों की देखभाल प्रमुख है। ये नतीजे इसलिए चौंकाने वाले हैं क्‍योंकि सर्वे में शामिल 60 प्रतिशत से ज्‍यादा ग्राहकों का मानना है कि वे अपनी जिंदगी में सिर्फ होममेकर बनकर नहीं रहना चाहतीं।

इस शोध से यह भी खुलासा हुआ है कि महिलाएं अपने परिवार के स्‍वास्‍थ्‍य और पोषण के पहलुओं पर ध्‍यान देने के महत्‍व को बखूबी समझती हैं। सर्वे में शामिल 65 फीसदी महिलाओं का मानना है कि उनके द्वारा पकाया गया भोजन अधिक सुरक्षित और स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक होता है। लेकिन वे अपनी निजी आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए घरेलू कार्यों पर लगने वाले समय को कम करना चाहती हैं। महाराष्‍ट्र में 60% महिलाओं का कहना है कि वे अपने शौक तथा जज्‍़बे और जुनून को निभाना चाहती हैं। राज्‍य में नासिक, सोलापूर और पुणे तीन ऐसे प्रमुख शहर हैं जहां महिलाओं का मानना है कि रोज़मर्रा के कार्यों पर 30 मिनट की कमी होने से भी उन्‍हें अपने शौक पूरे करने का मौका मिल सकता है। इस सर्वे से यह तथ्‍य भी सामने आया है कि 37 प्रतिशत महिलाएं अपने शौक वगैरह पूरे करने के लिए अपने परिवार के अन्‍य लोगों का सहयोग और प्रोत्‍साहन चाहती हैं।

सर्वे के बारे में सुबिन शिवान, मार्केटिंग प्रमुख, करगिल ऑयल्‍स बिज़नेस, इंडिया ने कहा, ''जैमिनाई ऑयल द्वारा कराए #IgnitingAspirations सर्वे के नतीजों ने उपभोक्‍ताओं के लिए अधिक समय उपलब्‍ध कराने के जैमिनाई ब्रैंड के रुख की पुष्टि की है। इस सर्वे से यह तथ्‍य सामने आया है कि किचन में होममेकर्स द्वारा बिताया जाने वाला समय काफी अधिक होता है और महामारी के दौरान यह और बढ़ गया है जिसका नतीजा यह होता है कि उनके पास अपने लिए उपलब्‍ध समय और भी घट गया है। इस स्थिति ने हमें न्‍यूट्री फ्रैशलॉक टैक्‍नोलॉजी से लैस प्रोडक्‍ट के रूप में लगातार इनोवेट करने की हमारी प्रतिबद्धता को और मजबूती दी है ताकि वे किचन में अपने समय को अनलॉक कर अपने शौक या जुनून पूरे करने के लिए उसका इस्‍तेमाल कर सकें।''

प्रमुख नतीजे:

·        80% महिलाएं अपने घरों में ज्‍यादातर कुकिंग खुद करती हैं, क्‍योंकि ऐसा करना अधिक सेहतमंद माना जाता है और दूसरी वजह यह भी है कि उन्‍हें कोई सपोर्ट उपलब्‍ध नहीं होता

·        सर्वे में शामिल महिलाओं के अनुसार, कुकिंग (100 मिनट प्रतिदिन) और चाइल्‍डकेयर (133 मिनट प्रतिदिन) पर सबसे ज्‍यादा वक्‍त खर्च होता है जबकि इनके बाद साफ-सफाई और ग्रॉसरी शॉपिंग पर वक्‍त खर्च होता है

·        97% महिलाओं ने बताया कि त्‍योहारों के अवसर पर उनके घरेलू दायित्‍व बढ़ जाते हैं जो कि साफ-सफाई और कुकिंग जैसी गतिविधियों के कारण होता है, और इस तरह उनके पास खुद अपने लिए समय बहुत कम रह जाता है।

·        टियर 2 शहरों में रहने वाली महिलाएं अपने घरों में लैंगिक समानता चाहती हैं, और ये पुरुषों से घरेलू गतिविधियों में हाथ बंटाने की अपेक्षा रखती हैं

·        युवा पुरुषों द्वारा घर के कार्यों में महिलाओं की मदद करने की ज्‍यादा संभावना है, राज्‍य में 21 से 25 वर्ग की आयुवर्ग की 74% महिलाओं को घरों में पुरुषों से सहयोग मिलता है, और यह स्थिति राज्‍य के कई बड़े शहरों जैसे कि ठाणे (99%), नवी मुंबई (90%), मुंबई (82%) और पुणे (80%) में और बेहतर है

·        10 में से 9 महिलाएं अपने घरेलू कार्यों में पुरुषों द्वारा जिम्‍मेदारी निभाने में बराबरी चाहती हैं, यह रुझान अपेक्षाकृत युवा महिलाओं में अधिक दिखायी देता है, यह प्रतिशत कोल्‍हापुर में 95%, पुणे और ठाणे में 94%, नासिक और नागपुर में 89% है।

·        महाराष्‍ट्र में 64% जब तक अविवाहित थीं, तब तक उन्‍होंने अपने कॅरियर, शौक और जुनून निभाए लेकिन विवाहोपरांत परिवार (54%) और बच्‍चों की देखभाल (57%) उनके प्रमुख दायित्‍व बन गए

·        60% महिलाएं अब भी उनके परिवारों द्वारा घरेलू कार्यों में सहयोग (30%) तथा प्रोत्‍साहन (37%) मिलने पर अपनी आकांक्षाओं को पूरा करना चाहती हैं 

इन नतीजों ने एक बार फिर यह साबित कर दिया है कि जैमिनाई ऑयल्‍स जो कि न्‍यूट्री फ्रैशलॉक टैक्‍नोलॉजी के साथ आते हैं, उपभोक्‍ताओं के लिए अधिक समय अनलॉक करते हुए उन्‍हें अपने शौक पूरा करने में समर्थ बनाते हैं। जैमिनाई की न्‍यूट्री फ्रैशलॉक टैक्‍नोलॉजी और पैकेजिंग तेल को ऑक्‍सीडेशन से बचाते हुए ऑयल की क्‍वालिटी बरकरार रखती है। इस तरह, जैमिनाई ऑयल्‍स में पकाया भोजन लंबे समय तक के लिए पोषक तत्‍वों और ताज़गी को बनाए रखता है। इसका मतलब यह है कि खाना पकाने की जरूरत कम रह जाती है और यह महिलाओं को अपने शौक तथा जुनून पूरा करने के लिए भी समय उपलब्‍ध कराता है।

सर्वे के बारे में -

जैमिनाई का #IgnitingAspirations सर्वे जैमिनाई कुकिंग ऑयल्‍स द्वारा कराया गया था जो कि भारत में करगिल के खाना पकाने के तेल व्‍यवसाय का फ्लैगशिप ब्रैंड तथा महाराष्‍ट्र में दिग्‍गज कुकिंग ऑयल ब्रैंड है। यह सर्वे दिसंबर 2020 में कराया गया था और महाराष्‍ट्र के दस प्रमुख शहरों – पुणे, मुंबई, ठाणे, नवी मुंबई, नासिक, नागपुर, अमरावती, कोल्‍हापुर, शोलापुर तथा औरंगाबाद के 1200 प्रतिभागियों से फीडबैक लिए गए। इस सर्वे के नतीजों से खुलासा हुआ है कि किस प्रकार घरेलू कार्यों की वजह से होममेकर्स की जिंदगियां प्रभावित होती हैं और उन्‍हें अपने जीवन में अपने शौक आदि पूरे करने के लिए किस किस्‍म के सहयोग की आवश्‍यकता होती है।

Post a comment

 
Top