0







 2अक्तूबर 2020 को एक शाम हिन्दी पखवाड़ा के अवसान और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी व पंडित लाल बहादुर शास्त्री जयंती के उपलक्ष्य पर टेन न्यूज चैनल के सहयोग से काव्य सृजन महिला मंच द्वारा आयोजित शानदार - यादगार ऑन लाइन कवि सम्मेलन।

काव्य सृजन महिला मंच की स्थापना बसंत पंचमी, 10 फरवरी, 2020 को हुई और संस्था गत 2 वर्षों से निरंतर साहित्यिक, सामाजिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों के प्रति समर्पित है। चूंकि चलना और चलते रहना ही सृष्टि का नियम भी है उसी क्रम में वर्ष - 2020 में भी काव्य सृजन महिला मंच द्वारा हिंदी पखवाड़ा आयोजन और महात्मा गांधी व लाल बहादुर शास्त्री जयंती  के उपलक्ष में 2 अक्टूबर 2020 को ऑनलाइन काव्य गोष्ठी का शानदार जानदार आयोजन किया गया।

 काव्य सृजन महिला मंच की राष्ट्रीय अध्यक्ष, डॉ संगीता शर्मा 'अधिकारी ' ने इस ऑन लाइन कवि गोष्ठी का संयोजन एवं संचालन किया और उनकी गरिमामय उपस्थिति में काव्य सृजन महिला मंच की बेहद जानदार - शानदार और यादगार ऑन लाइन, काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया।  


किसी भी कार्य की निर्विघ्न समाप्ति के लिए हम उस परमपिता परमात्मा का स्मरण करते हैं और उसी क्रम में काव्य सृजन महिला मंच द्वारा आयोजित " एक शाम हिंदी पखवाड़ा के नाम  के निमित्त "  कवि सम्मेलन का शुभारम्भ काव्य सृजन महिला मंच की राष्ट्रीय अध्यक्ष, डॉ संगीता शर्मा अधिकारी  ने बहुत ही सधे हुए स्वर और बेहतरीन शब्द संयोजन के साथ मां भारती का आवाहन करते हुए अत्यंत भावपूर्ण सरस्वती वन्दना का पाठ किया। जिसको सफलता की ओर ले जाते हुए काव्य सृजन महिला मंच की राष्ट्रीय अध्यक्ष, डॉ संगीता शर्मा अधिकारी जी  ने अपनी और कई सम्मानित साहित्यकारों की काव्यात्मक अभिव्यक्तियों के साथ बेहतरीन संचालन से कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई।

काव्य सृजन महिला मंच की राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ संगीता शर्मा अधिकारी ने मां शारदे का आवाहन करते हुए सरस्वती वंदना के पश्चात काव्य सृजन महिला मंच साहित्यिक - सामाजिक और सांस्कृतिक संस्था के अब तक के सफर, संस्था द्वारा इन दो वर्षों में किए गए और किए जा रहे सभी कार्यो की विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। संस्था की गतिविधियों की जानकारी के पश्चात राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा सभी आमंत्रित - सम्मानित कवयित्रियों का स्वागत, आभार, अभिनंदन और प्रत्येक का परिचय देते हुए इस कवि सम्मेलन का शानदार आगाज़ किया। 

महात्मा गांधी जी व लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती को मनाते हुए इस पावन, पुनीत शुभ अवसर पर अभिव्यक्ति की दोहर को जीते हुए मन के तराशने के लिए एक नई उमंग व उत्साह के साथ सभी कवयित्रियों ने राष्ट्रप्रेम को समर्पित अपनी एक से बढ़कर एक बेहतरीन दोहा छंद कविता गीत गजल आदि विधाओं में पिरोई गई रचनाओं का बहुत ही खूबसूरत और अविस्मरणीय काव्य पाठ किया। सभी ने नारी शक्ति और हिंदी भाषा को प्रथम स्थान देते हुए काव्य पाठ और रचनाएं पढ़ी और भरपूर आनंद उठाया।

काव्य सृजन महिला मंच द्वारा आयोजित "एक शाम हिंदी पखवाड़ा और गांधी जयंती के नाम" पर ऑनलाइन आमंत्रित सम्मानित 13 कवयित्रियों डॉ विभा माधवी, सुश्री श्रेता सिंह उमा, सुश्री संजना तिवारी, सुश्री सुमिता प्रवीण, सुश्री रिचा चतुर्वेदी, सुश्री उषा राजेश शर्मा, डॉक्टर प्रमिला शर्मा, सुश्री ज्ञानेश्वरी सखी सिंह, सुश्री रूपा व्यास, डॉक्टर यासमीन मूमल, सुश्री राजुल अशोक, सुश्री सुलेखा अग्रवाल, सुश्री प्रियदर्शनी, इस ऑनलाइन कवि सम्मेलन को दो सत्रों में आयोजित किया गया जिसमें प्रत्येक कवित्री ने दोनों सत्रों में अपनी अपनी रचनाओं का पाठ किया। आयोजन की संयोजक - संचालक डॉ संगीता शर्मा अधिकारी ने भी अपनी कलम से निकले हुए शब्दों और कंठ से उच्चरित स्वरों से सभी के मन को मोह कर इस कार्यक्रम को एक नई पहचान देते हुए सभी श्रोताओ को काव्य पाठ का आनंद कराया तथा अपने शब्दों की मिठास और कलम से फैली हुई चारो ओर उजास से इस कार्यक्रम को एक उच्च स्तर पर सम्मान दिलाकर काव्य गोष्ठी के नए प्रतिमान स्थापित किए। साथ ही अपनी काव्य रस की वर्षा से सभी को रोमांचित कर आनन्दित किया। इस ऑनलाइन कवि सम्मेलन का टेन न्यूज़ चैनल की ओर से सीधा प्रसारण लगभग सवा दो घंटे तक जारी रहा और सभी दर्शकों ने मंत्रमुग्ध होकर इस ऑनलाइन कवि सम्मेलन का भरपूर लुत्फ उठाया और कमेंट बॉक्स में अपनी प्रतिक्रियाओं से सभी का उत्सावर्धन कर उनकी हौसला अफजाई की।

राष्ट्रप्रेम को समर्पित हिंदी पखवाड़ा आयोजित ऑनलाइन कवि सम्मेलन की इस यात्रा में शामिल सभी आमंत्रित सम्मानित कवयित्रियों को प्रोत्साहन एवं उत्साहवर्धन हेतु स्मृति चिह्न के रूप में काव्य सृजन महिला मंच, सामाजिक - साहित्यिक - सांस्कृतिक संस्था द्वारा संस्था की श्रीमती उषा राजेश शर्मा सेंट्रल दिल्ली इकाई की अध्यक्षा के सहयोग से प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए जिसमे उनकी गौरवमयी भूमिका को प्रणाम करते हुए उनके रचनात्मक सहयोग और दीप्तिमान - प्रेरक व उज्ज्वल भविष्य की कामना की गई।

काव्य सृजन महिला मंच संस्था की राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ संगीता शर्मा अधिकारी ने अपने वक्तव्य में सभी को प्रेरित एवं प्रोत्साहित किया और काव्य सृजन महिला मंच संस्था से जुड़ने का आग्रह करते हुए कहा कि आप सब तो इस साहित्यिक, सामाजिक और सांस्कृतिक सेवाभाव से जुड़ें ही और अन्य दूसरे लोगों को भी जुड़ने के लिए प्रेरित करके न केवल साहित्य अपितु संस्कृति का भी संवर्धन करते हुए समाज सेवा में भी एक अहम और बहुमूल्य योगदान दें। उन्होंने यह भी कहा कि आप सभी के स्नेह और सहयोग से ही काव्य सृजन महिला मंच भविष्य में भी इसी प्रकार के अनेक रचनात्मक आयोजन करता रहेगा और साथ ही साहित्य की दुनिया में अपनी एक विशिष्ट पहचान बनाते हुए संस्था को सफलता के शिखर तक पहुंचाएगा। 

अंत में इस ऑनलाइन कवि सम्मेलन की संयोजक संचालक और काव्य सृजन महिला मंच की राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ संगीता शर्मा अधिकारी द्वारा सभी लब्धप्रतिष्ठित - सम्मानित कवयित्रियों का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कार्यक्रम का बहुत ही शानदार और सफलतापूर्वक समापन किया गया।

Post a comment

 
Top