0


मुंबई : अमेरिकी में अतिरिक्त राहत पैकेज की उम्मीदों ने बेस मेटल और क्रूड ऑयल की कीमतों को सपोर्ट प्रदान किया और पीली धातु की कीमतों को कम कर दिया। राष्ट्रपति ट्रम्प की स्पीडी रिकवरी की रिपोर्ट ने सोने की कीमतों को और प्रभावित किया। एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के रिसर्च नॉन एग्री कमोडिटी एंड करेंसी एवीपी प्रथमेश माल्या ने बताया के अतिरिक्त कोरोना राहत पैकेज ने क्रूड की कीमतों को समर्थन किया, जबकि मांग की धूमिल संभावनाओं ने इस लाभ को सीमित रखा। औद्योगिक धातु की कीमतों में चीन में सप्ताहभर की छुट्टी की वजह से सीमित वृद्धि हुई। 

सोना: डॉलर की मजबूती की वजह से सोना 1.87% कम हो गया और 1877 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की पिछले सप्ताह कोरोनोवायरस के डायग्नोस होने के बाद तेजी से रिकवरी के कारण पीली धातु की कीमतों में कमी आई। महंगाई और मौजूदा मुद्रा संकट को देखते हुए सोने को बेस्ट प्रोटेक्शन माना जाता है। इस वजह से हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी और ट्रेजरी सेक्रेटरी स्टीवन मेनुचिन ने दोनों पक्षों के बीच के अंतर को कम करते हुए निवेशकों के बीच आशाएं जगाई और इससे सोने की कीमतें प्रभावित हुई।

चीन के मजबूत औद्योगिक विकास से सोने की कीमतों में वृद्धि सीमित रही। सितंबर 2020 में चीन की औद्योगिक गतिविधियों में वृद्धि ने विदेशी मांग में सुधार दिखाया, जिससे निवेशकों की जोखिम की भूख बढ़ गई। राष्ट्रपति ट्रम्प ने आगामी चुनावों तक अमेरिकी अर्थव्यवस्था का समर्थन करने के लिए अतिरिक्त प्रोत्साहन बिल पर बातचीत रोक दी। इसने भी गोल्ड की कीमतों में कमी लाई। आज के सत्र में एमसीएक्स पर सोने की कीमतें कम होने की उम्मीद है।

कच्चा तेल: डब्ल्यूटीआई क्रूड 3.7% से अधिक बढ़त के साथ बंद हुआ और अमेरिका में कोरोना राहत पैकेज की उम्मीद के बीच $40.7 प्रति बैरल पर बंद हुआ और राष्ट्रपति ट्रम्प के शीघ्र स्वस्थ होने के बाद निवेशकों में आशावाद जागा है। तूफान डेल्टा अमेरिकी गल्फ कोस्ट तक पहुंचा तो कई ऊर्जा कंपनियों को बंद करने के लिए मजबूर किया। इसने क्रूड की कीमतों को अतिरिक्त सपोर्ट प्रदान किया।

मजदूरी को लेकर असफल वार्ता के बाद हड़ताल शुरू हो गई, जिससे छह नॉर्वेजियन ऑफशोर तेल और गैस क्षेत्र बंद हो गए। हड़ताल में अधिक लोगों के शामिल होने से 330,000 बैरल के उत्पादन को खतरा पैदा हो गया है। हालांकि, कोविड-19 वायरस के पुनरुत्थान और दूसरे दौर के लॉकडाउन से जुड़ी चिंताओं ने क्रूड ऑयल की कीमतों को नियंत्रण में रखा। तेल की कीमतों में आज के सत्र में एमसीएक्स पर उतार-चढ़ाव भरे कारोबार की उम्मीद है।

बेस मेटल्स: राष्ट्रपति ट्रम्प के ठीक होने और यू.एस. द्वारा अतिरिक्त राहत पैकेज की बढ़ती आशाओं के बीच एलएमई पर बेस मेटल हरे रंग में बंद हुआ।

हालांकि, कोविड-19 की दूसरी लहर पर चिंताओं के कारण औद्योगिक धातु की कीमतें नियंत्रित रही। चीन में सप्ताह भर की छुट्टी ने तेल की मांग कमजोर की और विकास को और सीमित कर दिया। सितंबर 2020 में चीन की औद्योगिक गतिविधियों ने गति पकड़ी और विदेशों में मांग और राहत-बेस्ड बुनियादी ढाँचे के विकास में विकास हुआ। नेशनल ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स की रिपोर्ट के अनुसार, चीन का ऑफिशियल मैन्युफैक्चरर्स पर्चेजिंग मैनेजर का सूचकांक सितंबर 2020 में 51.5 था। 

कॉपर: कोविड-19 वायरस और लाल धातु के लिए मांग की संभावनाओं के बीच एलएमई कॉपर 0.02% की मामूली बढ़त के साथ और $ 6530 के स्तर पर बंद हुआ। हालांकि, चिली की खदानों में 2.8 मिलियन टन की संयुक्त क्षमता वाली श्रमिक वार्ताओं ने कॉपर की कीमतों को कम कर दिया। आज के कारोबारी सत्र में एमसीएक्स पर कॉपर की कीमतें कम होने की उम्मीद है।

Post a comment

 
Top