0

                     'सूपनखा रावन के बहिनी'

जौनपुर ( जितेंद्र शर्मा): तहसील बदलापुर के औंका गांव में चल रही श्री बाल हनुमंत धार्मिक रामलीला कमेटी में सूर्पणखा नककटिया, सीता हरण व लंका दहन की लीलाएं दिखाई गई। रामलीला के सीता हरण में राम-लक्षण सीता घूमते घूमते पंचवटी में पहुंच जाते हैं तो वहां पर रावण की बहन सूर्पणखा आ जाती है और रामजी से कहती हैं कि मुझसे शादी कर लो। मैं बहुत सुंदर हूं। रामजी कहते हैं, देवी मैं तो शादीशुदा हूं मेरे साथ में मेरी पत्नी सीता भी है तुम मेरे छोटे भाई लक्ष्मण के पास चली जाओ शायद कुछ बात बन जाए। सूर्पणखा कहने लगी क्या लक्ष्मण अकेले हैं? राम जी बोले इस समय तो अकेले है फिर वह लक्ष्मण के पास चली गई और शादी का प्रस्ताव रखा। इसके बाद सूर्पणखा के नृत्य और जुगलबंदी का दौर शुरू हुआ, जिसका दर्शकों ने भरपूर आनंद लिया। 

लक्ष्मण का स्वभाव शुरू से ही क्रोधित था, लक्ष्मण ने गुस्से में आकर उसकी नाक काट डाली। 

शूर्पणखा का यह किरदार प्रदीप शर्मा ने निभाया जिसका दर्शकों में बहुत आनंद लिया।

लक्ष्मण का किरदार राज शर्मा ने बखुबी निभाया। जिससे पूरा पंडाल तालियों से गूंज उठा। उसके बाद सीता हरण व लंका दहन तक कि लीला रामभक्तों को दिखाई गयी।

Post a comment

 
Top