0






इस वित्‍त वर्ष की पिछली दो तिमाहियों में तेजी से बढ़ने वाली मांगों को पूरा करने पर इंडस्‍ट्रीज के जोर के साथ, एसकेयूट्रो शॉपफ्लोर मोबिलिटी और कर्मचारी उत्‍पादकता बढ़ाने में मदद करेगा 

मुंबई : गोदरेज मैटेरियल हैंडलिंग, जो गोदरेज एंड बॉयस का एक बिजनेस है, ने आज घोषणा की कि यह अपने विशिष्‍ट इंट्रॉ-लॉजिस्टिक, मोबिलिटी-कम-ट्रांसपोर्ट समाधान, गोदरेज स्‍कुट्रो का रेंज बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। पिछले वर्ष लॉन्‍च किया गया, स्‍कुट्रो एक मैन्‍युअल राइडर उपकरण है जिसका उपयोग शॉपफ्लोर में सामान को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए किया जाता है।

लॉकडाउन बढ़ने के चलते दो मंद तिमाहियों और अब प्रतिबंधों में दी गई ढील के मद्देनजर, इंडिया इंक इस वित्‍त वर्ष की शेष बची दो तिमाहियों में बढ़ने वाली मांग पूरी करने के लिए अनुमानत: पूरा जोर लगायेगा। रिटेल, फार्मास्‍यूटिकल और एफएमसीजी व अन्‍य क्षेत्रों द्वारा तेजी से शॉप फ्लोर मेकेनाइजेशन एवं ऑटोमेशन को उपयोग में लाये जाने और उत्‍पादकता के अंतर को पूरा किये जाने की उम्‍मीद है, ताकि बाजार हिस्‍सेदारी को हुए नुकसान को कम से कम किया जा सके और वापस हिस्‍सेदारी हासिल की जा सके।

गोदरेज मैटेरियल हैंडलिंग, एक्‍जीक्‍यूटिव वाइस प्रेसिडेंट और बिजनेस हेड, अनिल लिंगायत ने कहा, ''महामारी ने देश की आपूर्ति श्रृंखला और वेयरहाउसिंग सेक्‍टर को तहस-नहस कर दिया है। बाजार की वापसी की उम्‍मीद में और डे ज़ीरो के तुरंत बाद से, बिजनेस अब अपनी वेयरहाउसिंग एवं इंट्रा-लॉजिस्टिक तैयारी का पुनराकलन कर रहे हैं। इसलिए, कर्मचारियों की उत्‍पादकता एवं उनके स्‍वास्‍थ्‍य को प्रभावित किये बिना सामग्रियों की स्‍मूथ हैंडलिंग सुनिश्चित करना इंडिया इंक की एक सर्वोपरि प्राथमिकता होगी। स्‍कु्ट्रो ने पिछले वर्ष अपने लॉन्‍च के बाद से इंट्रा-लॉजिस्टिक क्षेत्र में नवीन मोबिलिटी कम ट्रांसपोर्ट नवाचार के रूप में स्‍वयं को साबित किया है। हमें इस अवधि के दौरान स्‍कुट्रो से जुड़ी पूछताछ में काफी वृद्धि देखने को मिली है। इसलिए, हमने इंट्रा-लॉजिस्टिक समाधानों की बढ़ती मांग पूरी करने के लिए इंडस्‍ट्री को #EmergeStronger (मजबूती से बाहर निकलने) में सहायता देने हेतु स्‍कुट्रो रेंज को बढ़ाने का निर्णय लिया है।

विशेषज्ञों का पूर्वानुमान है कि लॉकडाउन के नियमों में ढील दिये जाने के बाद से उपभोक्‍ता मांग में अचानक वृद्धि होगी और प्रवासी कार्यबल के चले जाने के चलते कुशल कार्यबल की सहज उपलब्‍धता की समस्‍या पैदा होगी, जिससे आपूर्ति-श्रृंखला और हेयरहाउसिंग क्षेत्र को गंभीर दबाव का सामना करना होगा। ऐसे में, स्‍कुट्रो कर्मचारियों के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए जोखिम पैदा किये बिना शॉपफ्लोर मोबिलिटी और कर्मचारी उत्‍पादकता बढ़ाने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभायेगा।

गोदरेज मैटेरियल हैंडलिंग द्वारा कराये गये एक आकलन से पता चला है कि कोविड से पहले, 50,000 वर्गफीट के वेयरहाउस में आठ घंटों के शिफ्ट में एक कर्मचारी द्वार औसतन लगभग 15 कि.मी. की दूरी कवर की जाती थी। स्‍कुट्रो के जरिए कर्मचारी एक स्‍थान से दूसरे स्‍थान तक बिना पैदल चले सामान लेकर जा सकेंगे। अनुभवसिद्ध प्रमाणों से पता चलता है कि स्‍कुट्रो से उत्‍पादकता 25 प्रतिशत तक बढ़ सकती है, इसके उपयोग से थकान कम होगा और कार्यस्‍थल पर भी खुशनुमा माहौल बना रहेगा।

गोदरेज एंड बॉयस मैन्‍युफैक्‍चरिंग कं. लि. के विषय में 

गोदरेज एंड बॉयस (G&B), जो गोदरेज समूह की एक कंपनी है, की स्‍थापना वर्ष 1897 में हुई थी और इसने विनिर्माण के जरिए भारत को आत्‍मनिर्भर बनाने में सहयोग दिया है। जीएंडबी ने दुनिया का पहला स्प्रिंगलेस लॉक पेटेंट कराया और उसके बाद से, इसने सिक्‍योरिटी, फर्नीचर, एयरोस्‍पेस से लेकर इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर एवं डिफेंस जैसे विभिन्‍न क्षेत्रों में 14 कारोबार फैलाये हैं। गोदरेज भारत के सबसे विश्‍वसनीय ब्रांड्स में से एक है और यह रोज़ाना दुनिया भर के 1.1 बिलियन ग्राहकों की सेवा करता है।

Post a comment

 
Top