0


श्री कृष्ण जन्माष्टमी के उत्सव पर इस्कॉन भक्ति कला क्षेत्र ने इस बार वर्चुअल राधा कृष्णा उत्सव २०२० का आयोजन किया गया है। ८ से १२ अगस्त तक उत्सव जारी रहेगा जो भक्ति कला क्षेत्र के एच. जी. डॉ. सूरदास के प्रबंध तंत्र द्वारा संचालित किया जाएगा

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी भक्ति कला क्षेत्र के अवसर पर, इस्कॉन की सांस्कृतिक शाखा अपने फेसबुक और यूट्यूब पेज के माध्यम से दुनिया भर के सभी राधा कृष्ण भक्तों के लिए सबसे बड़े उत्सव का आयोजन किया गया है।

सुमित अरोरा, अमित बिसानी और राजेश नेगी द्वारा सभी कृष्ण भक्तों के लिए राधा कृष्ण उत्सव २०२० में संगीत और कला प्रेमियों के लिए वर्चुअल टेलीकास्ट होगा।

www.bhaktikalakshetra.com

इस्कॉन निश्चित रूप से अपने वार्षिक भव्य जन्माष्टमी उत्सव के लिए जाना जाता है और काफी प्रसिद्ध है। हालांकि, इस्कॉन भक्ति कला क्षेत्र कोरोना महामारी के दौरान सुरक्षा को प्राथमिकता के रूप में रखते हुए, राधा कृष्ण उत्सव २०२० के अपने वर्चुअल उत्सव को पांच दिनों के लिए मनोरंजन कार्यक्रमों के साथ घोषित किया गया है।
प्रबंधन के अनुसार, कार्यक्रम इस तरह से आयोजित किया गया है कि दुनिया भर के सभी राधा कृष्ण भक्त अपने परिवारों के साथ फेसबुक और यूट्यूब पेज के माध्यम से त्योहार का आनंद ले सकते हैं।
भक्ति कला क्षेत्र के संचालन संरक्षक एच. जी. सूरदास कहते हैं, "कृष्ण जन्माष्टमी श्री कृष्ण जन्म के उपलक्ष्य में देश भर में मनाया जाने वाला एक भव्य त्योहार है, जिसे भगवान विष्णु का आठवां अवतार भी माना जाता है। हम इस्कॉन भक्ति कला क्षेत्र में हर साल भारत भर में सैकड़ों और हजारों भक्तों के लिए त्योहार का आयोजन करते हैं, हालांकि इस साल उत्सव वर्चुअल होगा। हम इन कठिन समय में हमारी मदद करने के लिए भगवान श्री कृष्ण का आशीर्वाद चाहते हैं।
सूरदास आगे कहते हैं “हालांकि हमारे पास एक भौतिक उत्सव नहीं होगा, लेकिन हम अपने वर्चुअल उत्सव के माध्यम से लाखों लोगों तक पहुंचाने के लिए खुश हैं। दुनिया भर के भारतीय भगवान श्री कृष्ण भक्त वस्तुतः उत्सव का आनंद ले सकते हैं। हर साल की तरह इस साल भी हमारे पास नृत्य, गायन से लेकर बांसुरी तक के मनोरंजन कार्यक्रमों की अच्छी तैयारी की गयी है। हम सभी से अनुरोध करते हैं कि हमारे फेसबुक और यूट्यूब पेज पर हमसे जुड़ें और इस्कॉन भक्ति कला क्षेत्र मैं शामिल हों।
https://www.facebook.com/BKK.ISKCON/?ti=as
www.bhaktikalakshetra.com

भजन सम्राट अनूप जलोटा का कहना है, “श्री कृष्ण जन्माष्टमी भक्ति कला क्षेत्र के शुभ अवसर पर मेरी आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएँ। इस साल यह उत्सव मंदिर में नहीं होगा, इसलिए मैं आप सभी को घर से इस त्योहार का आनंद लेने के लिए अपना विनम्र निमंत्रण देता हूं। मैं घर से ही भजन करूंगा, ताकि आप घर बैठे मेरे भजन का आनंद भी ले सकें। तो आइए इस साल हम सभी मिलकर भगवान श्री कृष्ण की पूजा और प्रार्थना करें और जन्माष्टमी उत्सव का आनंद लें।

रोनू मजूमदार कहते हैं, "हरे कृष्णा। भक्ति कला क्षेत्र से मैं ८० के दशक से जुड़ा हुआ हूँ। मैं मंदिर, सूरदास प्रभु और पूरी टीम के बहुत करीब रहा हूं। मैं राधा रासबिहारी जी का हिस्सा महसूस करता हूं और भगवान श्री कृष्ण के आशिर्वाद और भक्ति कला क्षेत्र के साथ मेरे व्यक्तिगत सेवा के रूप में हमेशा काम करता रहूंगा। मैं प्रार्थना करता हूं कि मैं इसे अपने जीवन के अंतिम दिन तक करता रहूँ। मैं भक्ति कला क्षेत्र के साथ जुड़े रहने के लिए बहुत खुश हूं और इस बार ग्लोबल वर्चुअल राधा कृष्ण उत्सव २०२० के लिए अपना सेवा कार्य करने के लिए भी उत्सुक हूं। मैं अपना राग और बाके बिहारी जी के लिए भजन प्रस्तुत करूंगा। मैं आपको मेरे संगीत और उत्सव का आनंद लेने के लिए आमंत्रित करता हूं।
हेमा मालिनी कहती हैं, "हरे कृष्ण! १२ अगस्त को राधा रास बिहारी नृत्य नाटिका प्रस्तुत की जाएगी, मैं आप सभी से आग्रह करती हूं कि एक साथ आएं और कृष्ण रस में डूब जाएं और इस उत्सव का पुरे परिवार के साथ आनंद लें। वर्तमान स्थिति को देखते हुए, हम नृत्‍य नाटिका को भौतिक रूप से आपके सामने प्रस्तुत नहीं कर पाएंगे। हर साल जन्माष्टमी के अवसर पर मैं नृत्य के रूप में कृष्ण लीला प्रस्तुत करती आ रही हूं, लेकिन मैं आप सभी को यह बताते हुए अपार प्रसन्नता महसूस कर रही हूं कि इस वर्ष जुहू इस्कॉन भक्ति कला क्षेत्र मैं राधा कृष्ण उत्सव ८ अगस्त से १२ अगस्त तक जारी रहेगा। इस उत्सव में कई प्रतिभाशाली कलाकार अपनी कलाकृतियाँ प्रस्तुत करेंगे। जन्माष्टमी एक ऐसा त्योहार है जो बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है और जुहू इस्कॉन भक्ति कलाक्षेत्र से मेरा जुड़ाव बहुत पहले से है। मेरे सभी ब्रजवासी भाईयों के साथ जन्माष्टमी के इस शुभ अवसर पर मैं सभी को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बहुत-बहुत शुभकामनाएँ देना चाहती हूँ।

कार्यक्रम की तिथि : - ८ से १२ अगस्त २०२०

यजमान - भक्त कवि श्री दास नारायण
८ अगस्त - बंसुरी गायन श्री रोनू मजूमदार
९ अगस्त - भजन द्वारा श्री महेश शर्मा
१० अगस्त - भजन द्वारा श्रीमती देवयानी मजूमदार
११ अगस्त - भजन सम्राट और पद्मश्री अनूप जलोटा
१२ अगस्त - नृत्य बैले द्वारा श्रीमती हेमा मालिनी


Post a comment

 
Top