0

नासिक शहर पुलिस की स्वास्थ्य पर ऑनलाइन नजर रखी जाएगी

 सेंट्रलाइज्ड ऑनलाइन हेल्थ सिस्टम का उद्घाटन

नासिक (महाराष्ट्र): नासिक शहर की पुलिस और फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार ने मिलकर सेंट्रलाइज्ड ऑनलाइन हेल्थ सिस्टम का उद्घाटन किया, जिसके द्वारा पुलिस बल की सेहत व फिटनेस पर निगरानी रखी जाएगी। इसका डैसबोर्ड एक सिंगल प्लेटफॉर्म के रूप में काम करेगा, जो एक नजर में स्क्रीन पर हर पुलिसकर्मी को स्वास्थ्य से संबंधित महत्वपूर्ण व उपयोगी जानकारी प्रदान करेगा।
इस अवसर पर बॉलीवुड के सुपरस्टार अक्षय कुमार ने कहा कि हमारे पुलिस बल की प्रतिबद्धता सराहनीय और प्रशंसा के योग्य है। उनकी निरंतर कड़ी मेहनत एवं साहस किसी नायक से कम नहीं है। हमें इन फ्रंटलाइन कर्मियों को सुरक्षा देने की जरूरत है, जो इस महामारी के दौरान हमारी सुरक्षा के लिए निरंतर काम कर रहे हैं। यह स्थिति लंबे समय तक चलने वाली है, इसलिए मेरा मानना है कि टेक्नोलॉजी की मदद से नासिक पुलिस को अपने पुलिसकर्मियों की सेहत व फिटनेस पर निगरानी रखनी चाहिए और उन्हें सुरक्षित रखने के लिए सावधानी के उपाय करने चाहिए।
नासिक शहर में स्थित दतार ग्रुप कैनकनेक्ट फाउंडेशन ने अपने सीएसआर अभियान के तहत नासिक शहर के पुलिसकर्मियों को हेल्थ रिस्ट बैंड डोनेट किए, जो शरीर के तापमान को जांच लेते हैं। ये डिवाईसेस संपूर्ण हेल्थ डैशबोर्ड से युक्त हैं।
नासिक शहर के पुलिस कमिश्नर विश्वास नागरे पाटिल ने कहा 'नासिक शहर की पुलिस यह सुनिश्चित करने के लिए निरंतर काम कर रही है कि इसके पुलिसकर्मी सुरक्षित व सेहतमंद बने रहें। हमें यह सुनिश्चित करना है कि हमारा कार्यबल स्वस्थ रहे, क्योंकि उन्हें शहर में हो रही गतिविधि पर निगरानी रखने व नागरिकों की मदद के लिए सदैव उपलब्ध रहना है। इस तरह के ऑनलाइन हेल्थ मॉनिटरिंग सिस्टम के साथ हम सऱीर की उपयोगी चीजें, जैसे तापमान, दिल की धड़कन, ब्लड प्रेशर पर नजर रख सकेंगे और अपने पुलिस बल को सेहतमंद व चुस्त रखने के लिए आवश्यक कदम उठा सकेंगे। यह प्लेटफॉर्म शरीर का तापमान एवं पल्स रेट को रिकॉर्ड करता है और यदि हमारे पुलिस बल में को भी संदेहास्पद मामला सामने आता है तो हम फौरन उसे आइसोलेट कर तत्काल उपाय कर सकते हैं।
गोक्यूआईआई के फाउंडर एवं सीईओ विशाल गोंडल ने कहा, 'डिटेक्शन एलगोरिद्म एवं गोक्यूआईआई वाईटल 3.0 स्मार्ट बैंड का संयुक्त उपयोग कोविड-19 के मरीजों को आईसोलेट करने में काफी मददगार रहेगा। यह विकसित होते मामलों पर नजर रखेगा एवं नासिक शहर की पुलिस के बीच इस बीमारी को फैलने से रोकेगा। हम अपने फ्रंटलाइन कर्मियों की मदद करने पर काफी खुश हैं, क्योंकि इस महामारी के खिलाफ लड़ाई में वो ही सच्चे योद्धा हैं।
जानकारी के अनुसार प्लेटफॉर्म पर एकत्रित किया गया पूरा डेटा एचआईपीएए, जीडीपीआर एवं संबंधित जेटा प्राईवेसी के दिशा निर्देशों का पालन करता है।

Post a comment

 
Top