0


मुंबई : लॉकडाउन के दरम्यान वाहन ज्यादा देर तक खड़े हैं ऐसे में डेड बैटरी, फ्यूल पंप लीक, इग्निशन इश्यू, फ्लैट टायर आदि समस्याओं के कारण उन्हें शुरू होने या मूव करने में समस्या पैदा हो सकती हैं। लॉकडाउन खत्म होने के बाद उन्हें शुरू करना एक चुनौतीपूर्ण कार्य बन जाएगा। इस समस्या को हल करने के लिए भारत के सबसे बड़े और अग्रणी ऑनलाइन ऑटोमोबाइल लेन-देन मार्केटप्लेस डूम ने पूरे भारत में ग्राहकों के लिए उनके घर पर एक अनूठी सेवा जम्पस्टार्ट - ऑटोकेयर लॉन्च की है। इस सेवा में टायरों का रखरखाव, महत्वपूर्ण कार्यों की जांच और ऑयल व ल्यूब्रिकंट टॉप-अप के साथ-साथ वाहन का जम्पस्टार्ट शामिल है।
मुख्य जंप स्टार्ट डिवाइस पैकेज के अलावा यूजर टोइंग, गैस फिल, फ्लैट टायर की मरम्मत, प्रेशर वॉटर क्लीनिंग और ऑयल, ल्यूब्रिक्रंट, कूलंट आदि की टॉप-अप सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं।
यूजर्स वाहन, लोकेशन, मेन सर्विस और इस प्रक्रिया में किसी भी एड-ऑन सेवाओं को चुन सकते हैं। वे अपनी सुविधा के अनुसार टाइम स्लॉट चुन सकते हैं और भुगतान की पुष्टि कर सकते हैं या बाद में भुगतान कर सकते हैं। इसके बाद ड्रूम इस काम को करने एक 'इको-निंजा' या तकनीशियन नियुक्त करता है, जो सर्विसिंग प्रक्रिया पूरी होने के बाद संबंधित ग्राहक को इको जम्प स्टार्ट रिपोर्ट देता है। ग्राहक तकनीशियन को मौके पर अपने मौजूदा पैकेज में जोड़कर किसी भी अतिरिक्त सेवाओं को करने को भी कह सकता है।
ड्रूम के संस्थापक और सीईओ संदीप अग्रवाल ने कहा, “लॉकडाउन की अवधि बढ़ने के मद्देनजर एक अनुमान के मुताबिक भारत में करीब 5 से 25 मिलियन वाहन शुरू होने में या मूव करेन में दिक्कत दे सकते हैं। अपने ग्राहकों को बेहतर सेवा देने के लिए हमने मार्च में जर्म शील्ड लॉन्च किया और आने वाले समय में इस तरह की और अनूठी सेवाओं को लॉन्च करना जारी रखेंगे।”

Post a comment

 
Top