0

मनोरंजन जगत से जुड़े दैनिक वेतन भोगियों के लिए अलग फंड बने, एफडब्लूआइसीई ने केंद्रीय वित्त मंत्री को भी लिखा पत्र

मुम्बई। देश की अर्थव्यवस्था में फिल्म और टेलीविजन जगत का व्यापक सहयोग होता है इसके बावजूद 20 लाख करोड़ के कोरोना राहत पैकेज मेें सरकार ने फिल्म जगत के लाखों दैनिक वेतनभोगी श्रमिकों के लिए कोई राहत का प्रावधान नहीं किया जिससे फ़िल्म निर्माताओं और श्रमिकों में नाराजगी है। फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इण्डिया सिने एम्प्लॉयज (एफडब्लूआइसीई ) ने इसे लेकर वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखा है। फिल्म उद्योग की समस्याओं को लेकर शीघ्र ही एफडब्लूआइसीई के पदाधिकारी और फ़िल्म निर्माता वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर से  निर्माता और भाजपा नेता रंजीत शर्मा के नेतृत्व में  मिलेंगे और फ़िल्म तथा टेलीविजन जगत की आर्थिक समस्याओं के समाधान पर चर्चा करेंगे।
 फेडरेशन के प्रेसिडेंट बी. एन. तिवारी, जनरल सेक्रेटरी अशोक दुबे, ट्रेजरार गंगेश्वर लाल श्रीवास्तव,मुख्य सलाहकार अशोक पंडित और ओरंगाबाद से पूर्व विधायक श्रीकांत अनंत राव जोशी ने वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर बताया है कि फिल्म जगत देश की अर्थव्यवस्था में व्यापक सहयोग करता है लेकिन मीडिया और एन्टरटेन्मेंट उद्योग से जुडे 32 विभिन्न क्षेत्रों के दैनिक वेतन भोगियों की अनदेखी से वे संकट में हैं। इस बारे में प्रधानमंत्री व सूचना और प्रसारण मंत्री का भी ध्यान आकर्षित किया गया, लेकिन अभी तक कोई राहत नहीं मिली है।  प्रोड्यूसर गिल्ड आफ इण्डिया, इंडियन मोशन पिक्चर्स, प्रोड्यूसर एसोसिएशन, टेलिविजन प्रोड्युसर और एफडब्लूआइसीई जैसी अनेक संस्थाओं के तहत लाखों  दैनिक वेतन भोगी काम करते हैं। फिल्म प्रोड्यूसरों ने अपने स्तर पर 35 हजार दैनिक वेतन भोगियों को राशन, बिगबाजार का 15 सौ रूपये का कूपन आदि देकर सहायता की है। लेकिन इसके बावजूद हजारों ऐसे दैनिक वेतन भोगी हैं जिनतक सहायता नहीं पहुंच पा रही है।
फेडरेशन के प्रेसिडेंट बी एन तिवारी ने बताया कि पत्र में मांग की गई है कि सरकार अलग से फंड की व्यवस्था कर फिल्म और टेलीविजन जगत के दैनिक वेतन भोगियों की सहायता करे।
भाजपा नेता रंजीत शर्मा ने बताया कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र भेजने के बाद फेडरेशन के कुछ पदाधिकारियों के साथ उन्होंने वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर से संपर्क किया और समस्या से अवगत करा कर मिलने का समय मांगा। इस पर वित्त राज्यमंत्री ने मिलने पर सहमति जताई है। शीघ्र ही मुम्बई से रंजीत शर्मा के नेतृत्व में फेडरेशन के प्रेसिडेंट बी एन तिवारी, जनरल सेक्रेटरी अशोक दुबे,  ट्रेजरार गंगेश्वरलाल श्रीवास्तव और मुख्य सलाहकार अशोक पंडित तथा विधायक अनंत राव जोशी तथा कुछ फ़िल्म निर्माता दिल्ली जाकर वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर से मिलकर समस्याओं के समाधान की राह निकालेंगे।

Post a comment

 
Top