0


  राष्ट्रीय साहित्यिक सामाजिक व सांस्कृतिक संस्था द्वारा मासिक काव्यगोष्ठी का आयोजन योगिराज श्री कृष्ण विद्यालय सफेदपुल साकीनाका मुम्बई में त्रिमूर्ति भोलानाथ तिवारी ''मुर्धन्य", अंजनी कुमार द्विवेदी, श्रीधर मिश्र, क्रमशः अध्यक्ष, कार्याध्षक्ष, उपाध्यक्ष का जन्मदिन डाॅ. रामनाथ राना की अध्यक्षता व लालबहादुर यादव "कमल" के संचालन में सम्पन्न हुआ।
आयोजन में बतौर मुख्य अतिथि देश विदेश में अपनी सशक्त रचनाओं से सबको आह्लादित कर देने वाले प्रख्यात कवि रमेश श्रीवास्तव, विशिष्ट अतिथि यादव संघ मुम्बई के जिलाजीत यादव ने उपस्थित होकर कविता का आनंद लेते हुए कवियों का उत्साह वर्धन किया। काव्यसंध्या को अपनी स्वरचित रचनाओं से महकाने वाले कवि पं. शिवप्राकाश जौनपुरी, कल्पेश यादव, आशीष अनोखा, निर्मल नदीम, संदीप प्रजापति, श्रीधर मिश्र, प्रा.अंजनी कुमार द्विवेदी, मुर्धन्य पुर्वांचली, विनय शर्मा दीप, एड.अनिल शर्मा, रमेश श्रीवास्तव, पूर्व प्रधानाचार्य हौंसिला प्रसाद अन्वेषी, डाॅ रामनाथ राना, विरेन्द्र कुमार यादव आदि रहे। कवयित्रियों में अभिनेत्री श्रुति भट्टाचार्य, नताशा गिरि व भारती त्रिपाठी मिलकर नवरस से परिपूर्ण रचनायें प्रस्तुत कर काव्यसंध्या को अविस्मरणीय बना दिया। आयोजन में विशेष रुप से शिक्षक चंद्रभान यादव, रामकृपाल यादव, आलोक वर्मा, डाॅ सुनील राना पधारकर आयोजन को ऊँचाइयां प्रदान की।
 अध्यक्षीय सम्बोधन में डाॅ रामनाथ राना ने काव्यसंध्या में पधारे सभी कवियों की रचनाओं पर संक्षिप्त प्रकाश डालते हुए आज की वर्तमान स्थिति पर भी अपने विचार रखे। विशिष्ठ अतिथि जीलाजीत यादव ने भी संस्था की भूरि भूरि प्रशंसा करते हुये आयोजन की तारीफ में अपने विचार प्रस्तुत किया और कवियों की तारीफ भी की।
संस्था के मार्गदर्शक हौंसिला प्रसाद अन्वेषी ने कवियों की रचनाओं पर व संस्था के कार्य पर अपने संक्षिप्त व्याख्यान देते हुए लोगों से अपील की कि सब लोग सहयोगात्मक रवैया अपनाते हुए संस्था के इस साहित्यिक यज्ञ में अपनी अपनी आहुतियाँ प्रदान करते रहें और हिन्दी साहित्य, अपनी संस्कृति संस्सकार को ऊँचाइयाँ प्रदान करते रहें। अंत में संस्था के उपाध्यक्ष श्रीधर मिश्र ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए अभिनंदन किया और आगे भी सहयोग करते रहने की अपील भी की।

Post a comment

 
Top