0


हॉरर फिल्मों में रोमांटिक स्टोरी को बड़े ही खूबसूरत अंदाज़ के साथ पेश करने में निर्देशक विक्रम भट्ट की सानी नहीं है। उनकी हॉरर लव स्टोरी फिल्मों की श्रृंखला में नया नाम 'घोस्ट' का जुड़ गया है। फ़िल्म में लंदन में अप्रवासी भारतीय करण खन्ना (शिवम भार्गव) एक युवा नेता है जिसकी खूबसूरत पत्नी की हत्या एक बुरी आत्मा कर देता है और इल्जाम करण पर लग जाता है। करण के बचाव के लिए महिला वकील सिमरन सिंह (सनाया ईरानी) आती है। सिमरन के जीवन में भी काफी उथल पुथल मची है जिसके लिए वह दर्दनिवारक दवाई का सहारा लेती है।
अक्सर देखा जाता है जब दो ऐसे इंसान मिलते है जिनके जीवन को दुखों ने घेर रखा है तब वे एक दूसरे के हमदर्द बन जाते हैं। इधर एक बुरी आत्मा द्वारा किसी इंसान की हत्या पर सिमरन को यकीन नहीं होता। फिर सबूत ढूंढते हुए सिमरन को पता चलता है कि जिस रात मिसेज करण की मौत हुई है उसी रात करण एक होटल में एक लड़की के साथ होता है।
सिमरन को लगता है कि वह एक गलत आदमी का साथ दे रही है फिर उसे भी बुरी आत्मा का सामना होता है। फ़िल्म का क्लाइमेक्स चौंकाने वाला है। आखिर वह बुरी आत्मा कौन है जो करण के जीवन से जुड़े सभी लोगों के जान का दुश्मन बन बैठा है ? तकनीकी रूप से फ़िल्म का साउंड इफेक्ट बेहतरीन है जिससे डर के भाव मजबूत बनते हैं। गीत संगीत और छायांकन फ़िल्म का प्लस पॉइंट है।

संतोष साहू

Post a comment

 
Top