0

हवा बदले हस्सु पर्यावरण से जुड़ी एक साइंस फ़िक्शन वेब सीरीज़ है जिसमें चंदन रॉय सान्याल एक बेहद अलग किस्म के रोल में दिखाई देंगे. गौरतलब है कि इस वेब सीरीज़ की ज़्यादातर शूटिंग एक रिक्शा के अंदर हुई है. उल्लेखनीय है कि अपना किरदार निभाने के लिए चंदन को महज़ दो घंटे में रिक्शा चलाना सीखना पड़ा. ऐसे में एक थिंकिंग एक्टर की छवि रखनेवाले चंदन ने तड़के एक दिन एक रिक्शेवाले से वर्सोवा में रिक्शा चलाना सीखा.
हवा बदले हस्सु एक ऐसे रिक्शा चालक की कहानी है जिसे पर्यावरण से बेहद प्यार है और वो वायु प्रदूषण को लेकर बेहद चिंतित रहता है. इस स्थिति को बदलने के लिए वो शिद्दत से कुछ करना चाहता है. ऐसे में वो अपने पैसेंजर्स से रोज़ाना की ज़िंदगी की बातें करने के दौरान उन्हें वायु प्रदूषण के बारे में शिक्षित करता है. हस्सु बदलाव में यकीन करने वाला ऐसा शख़्स है जो ईंधन के रूप में सीएनजी का इस्तेमाल करते हुए पर्यावरण के प्रति अपना छोटा सा योगदान देता है और अपने रिक्शा को ईको-फ्रेंडली ज़ोन में तब्दील कर देता है. 
अपने रोल के बारे में बात करते हुए चंदन ने कहा, "ये एक बेहद चुनौतीपूर्ण रोल था. इस सीरीज़ के लिए न सिर्फ़ मुझे चंद घंटों में रिक्शा चलाना सीखना पड़ा, बल्कि मुझे ज़्यादातर सीन रिक्शा के अंदर ही करने पड़े क्योंकि 70 फ़ीसदी सीरीज़ रिक्शा के अंदर ही शूट की गयी है. ऐसी में मेरी चुनौती का सहज अंदाज़ा लगाया जा सकता है. उस छोटी सी जगह में बैठकर सारे संवाद बोलना और अपने जज़्बातों को ज़ाहिर रखना आसान काम नहीं था.
हवा बदले हस्सु ज़िंदगी का अक्स दिखाने वाली फिल्म के तौर पर शुरू होती है और फिर ये सीरीज एक साइंस फ़िक़्शन में बदल जाती है. इस सीरीज़ के दूसरे सीजन‌ में इससे संबंधित इसकी ज़्यादा झलक देखने को मिलेगी. Sony Liv पर ये वेब सीरीज़ जल्द लॉन्च की जाएगी.

Post a comment

 
Top