0

निर्मात्री - सोनिका पटेल
निर्देशक - सुनील पटेल
कलाकार - तान्या दांग, जस बोपराई, जसबीर रंधावा, ललित सिंह राव, रज़ा रहमान अली, भूषण कुमार, कुलवंत खत्री , सनी चवारिया और अन्य ।

कुत्ते की दुम एक कॉमेडी फ़िल्म है, जो 
सिचुएशन पर बेस्ड हास्य सिनेमा है। 
यह रोमांस, कॉमेडी और सुपर नेचुरल शक्तियों का एक मिश्रण है, जिसमें सभी अभिनेता कैमरे के सामने अच्छी कॉमेडी करते दिखते हैं।
यदि आप जानना चाहते हैं कि कहानी क्या है, तो यह एक ऐसे कुंवारे के बारे में है जो अपने पूर्वजों की तलवार की तलाश में निकलता है जो एक हवेली में छिपी हुई है जिसे जॉम्बीज द्वारा हॉन्टेड माना जाता है। सुनील पटेल ने न केवल निर्देशन किया है बल्कि संवाद और पटकथा लिखने में भी अपना हाथ आजमाया, बल्कि संगीत भी दिया और फिल्म को भी संपादित किया है।
यह फिल्म पांच युवाओं की है जिन्हें अपनी चतुरता की वजह से परेशानी का सामना करना पड़ता है। फिल्म में हर कोई दूसरों की कीमत पर अपनी महत्वाकांक्षा को पूरा करने के लिए तैयार है।
संक्षेप में यही कहा जा सकता है कि हालांकि फिल्म को एक व्यंग्य माना जाता है, लेकिन यह अंत में प्रचारित करती है कि मानवता एक ऐसा गुण है जिसे किसी भी कीमत पर संरक्षित किया जाना चाहिए ।
इस फ़िल्म की मनोरंजक कहानी और इसका अलग सा कॉन्सेप्ट ही इस मूवी की यूएसपी है। निर्मात्री सोनिका पटेल, सह निर्मात्री शुभ चांदनी पटेल, प्रस्तुतकर्ता सत्येन्द्र त्रिपाठी की इस फ़िल्म में तान्या दांग, जस बोपाराय, ललित सिंह राव, राज़ रहमान अली और सन्नी ने अभिनय में चार चांद लगाने की भरपूर कोशिश किए हैं । 
इंडियन करी फिल्म्स के बैनर तले बनी फिल्म कुत्ते की दुम का संगीत ज़ी म्यूजिक ने जारी किया है।  इसके गाने अच्छे हैं। लीक से हटकर बनी इस फ़िल्म की खासियत इसकी नई स्टारकास्ट है, जिनकी प्रतिभा को उभारने में निर्देशक कामयाब रहे हैं। फ़िल्म एक बार देखी जा सकती है। 

Post a comment

 
Top