0



आज महिलायें हर क्षेत्र में प्रगतिशील हैं, आज हर खूबसूरत लड़की मॉडल, ऐक्ट्रेस, फैशन के क्षेत्र में अपना कदम रखना चाहती है, लेकिन इन्ही में से एक महिला ऐसी भी हैं जो भारतीय महिलाओं के प्रेरणा में नवाचार लाने के लिए दिन-प्रतिदिन तत्पर हैं। 
डा. शिवांगी मलेटी एक ऐसी महिला हैं, जो अध्यात्म से महिलाओं को जोड़ने की कोशिश करते हुए विभिन्न शहरों में कार्यक्रम आयोजित करती रहती हैं। उनके कार्यक्रम का नाम ही "क़्वीन इन द मेकिंग" होता है। शनिवार को भी मायानगरी मुंबई के अंधेरी ईस्ट स्थित आकृति ट्रेड सेंटर में "क़्वीन इन द मेकिंग" कार्यक्रम का आयोजन संपन्न हुआ। कार्य्रक्रम की संयोजक डा. शिवांगी मलेटी ने कहा कि हमारे देश में बहुत सारे धर्म हैं, लेकिन अध्यात्म के नाम पर महिलाओं को ज्यादा जानकारी नहीं है। उन्हें सही जानकारी प्रदान करने के साथ ही अन्धविश्वाशों के भ्रम को दूर करने के उद्देश्य से हम अपना क्लास चलाते हैं। उन्होंने बताया कि हम अलग-अलग शहरों में कार्यक्रम करने के अलावा विभिन्न सोशल साइट्स पर विडिओ ब्लॉग के माध्यम से अपने क्वीन को समझाने का काम करती हैं। डा. शिवांगी मलेटी ने कहा कि हर एक महिला के अंदर एक क्वीन की भूमिका छिपी होती है, बस जरूरत हैं उन्हें सही गाइड कर उन्हें अपने प्रतिभा को पहचानने में मदद करने की। 
 डा. शिवांगी मलेटी आगे कहती हैं कि संसार में समस्याओं की कमी नहीं। किसी के सम्मुख शारीरिक समस्या होती है, तो किसी के सम्मुख मानसिक और किसी को आर्थिक समस्या घेरे रहती है। किसी-न-किसी प्रकार की समस्या प्रायः सबके पीछे लगी रहती है। ऐसे में मोटिवेशन व स्प्रिचुअल बहुत आवश्यक है, मन के अन्दर शांति लाने के लिए अध्यात्म से जुड़ना बहुत जरूरी है। हमें अपने अंदर की नकारात्मक ऊर्जा को किनारे कर सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश अपने मष्तिष्क में करना होगा, काफी हद तक की परेशानियां दूर हो जायेगी।

Post a comment

 
Top