0

बंगला भाषी का सिनेमा जगत में अमूल्य योगदान है ।
फिल्मकार सत्यजीत रे को आज भी पूरी दुनिया की सिनेमा सम्मान देती है । बॉलीवुड में शुरू से लेकर आज तक बंगला भाषियों का वर्चस्व कायम है । रचनात्मक और कलात्मक कार्यों में बंगाली हमेशा अव्वल रहे हैं ।
 अंजलि फिल्म्स प्रोडक्शन के बैनर पर हाल ही में फ़िल्म ' प्रथोम देखते ' के लिए संगीतकार दिलीप दत्ता ने अंपायर स्टूडियो में तीन गीत रिकॉर्ड किये हैं । टाइटल गीत ' प्रथोम देखते ' की शब्दरचना राजू दास ने किया  और प्रबीर सरकार ने स्वर दिया है । दूसरी 'आशा की बेश ' भी राजू दास के कलम से सजी और उसे अंशुमान चटर्जी ने गाया । तीसरी गीत के रचयिता फैज़ अब्राहम हैं जिसे अंशुमान चटर्जी ने ही आवाज़ दिया ।
 बंगाली के साथ साथ हिंदी भाषा में बनने जा रही इस फ़िल्म के निर्माता राज दत्ता हैं और उन्होंने पूरी फिल्म की प्रोडक्शन की जिम्मेदारी आनंद पटेल को सौंपी है ।
 आनंद पटेल ने बताया कि यह फ़िल्म नवम्बर में फ्लोर पर जाएगी । फ़िल्म की शूटिंग हिमांचल प्रदेश , चंडीगढ़ , उत्तराखण्ड और मुंबई में की जाएगी । फिलहाल फ़िल्म के लिये कलाकारों का चयन जारी है ।

संतोष साहू

Post a comment

 
Top