0



​रोमांटिक फिल्म साथिया को १५ साल हो गये है ,​ फिल्म साल २००२ में प्रदर्शित हुई तब से यह सिनेमा लवर्स के एकदम तरोताजा फिल्म है। 

यशराज फिल्म्स द्वारा निर्मित और विवेक ओबेरॉय और रानी मुखर्जी
​ ​
अभिनीत फिल्म ने 
प्यार की कहानी 
​को
 बॉक्स ऑफिस पर 
​बहुत ​
सफल रही।
​ ​विवेक, जिन्होंने राम गोपाल वर्मा की कंपनी के साथ एक ही वर्ष में स्टारर शुरुआत की, अपनी पहली फिल्म के विपरीत भूमिका और शैली को लेकर अपने अभिनय क्षमता को साबित किया । साथिया  के साथ एक अलग मार्ग पर चलने का विवेक का ख्याल उनके और फिल्म के लिए गजब का काम कर गया ।

विवेक 
​ कहते है ​
, "साथीया के बारे में कुछ 
​तो ​
सदाबहार है। हालांकि 
​फिल्म को १५
 साल हो 
​चुके 
है, फिल्म अभी भी एक 
​इमोशनल फिल्म का 
उदाहरण है। 
​यह ​
मेरे कैरियर में कुछ ऐसी फिल्में हैं जो ऑडियंस के साथ इस तरह
​ से जुडी हुई​
 हैं। जब भी मैं लोगों से मिलती हूं, वे मुझे अपने काम के बारे में याद दिलाते हैं मुझे लगता है कि फिल्म की एक निश्चित परिपक्वता थी । एक समय था जब सब प्रेम कहानियां कैंडी पॉप थीं
​ और ​
यह एक ईमानदार और वास्तविक प्रेम कहानी थी। यह अपने समय से आगे 
​थी
 और यह व्यावसायिक रूप से अच्छी 
​साबित हुई थी
। 

हालांकि,  शुभचिंत
​को
 ने बहुचर्चित अभिनेता को अपनी दूसरी फिल्म के रूप में एक प्रेम कहानी चुनने से पहले पुनर्विचार करने की सलाह दी थी, लेकिन 
​विवेक आगे
 बताते हैं, "मुझे याद है कि जब कंपनी सफल हो गई और 
​मुझे
 प्रशंसाओं और शानदार समीक्षा
​ ​मिली थी,
  शुभचिंतकों का कहना
​ ​
​था की 
मैं एक प्रेम कहानी 
​करना
 
​पागलपन है 
और यह एक बड़ी गलती होगी।
​ ​

​वे चाहते थे की में अपने जीवन में लार्जर देन लाइफ बड़ी एक्शन फिल्म्स करू , लेकिन मुझे अंदर से लग रहा था की कुछ ​अलग करू जो मेने किया भी। 

विवेक ने अपनी फिल्म के सह-कलाकार
​ ​
के साथ काम
​ के बारे में कहते है 
, "वह एक सहज 
​अभिनेत्री
 है, 
​वह इमोशंस बहुत ही बेहतर तरके से और आसानी से व्यक्त करती है ​
।"

 - संतोष साहू

Post a comment

 
Top