0



 मुंबई: स्वच्छ भारत अभियान के तहत एक वर्ष के दौरान अपनी जिम्मेदारी समझने वाले पांच लाख से अधिक लोगों को जोड़ने का लक्ष्य है, जिसे पूरा करने का प्रयास जारी है. उक्त बाते स्वच्छ भारत अभियान के महाराष्ट्र संयोजक, राष्ट्रीय सदस्य एवं 'सोशल रिफाॅर्मिंग ऑफ माइनारिटीज' के सक्रिय नेता डाॅ. अब्दुल रेहमान वनू ने अपनी शेरो-शायरी संग्रह 'नजरिया' के विमोचन के दौरान कही.

    अंधेरी (पूर्व) स्थित आयोनी बैक्वेट हॉल में दादा साहब फाल्के फिल्म फाउंडेशन के महासचिव डॉ अब्दुल रेहमान वनू ने दीप प्रज्वलित कर समारोह का उद्धघाटन किया, इसके बाद भजन सम्राट अनूप जलोटा ने 'नज़रिया' का विमोचन किया. समारोह में समाज के हर एक वर्ग के गणमान्य उपस्थित थे, जिन्होंने 'नजरिया' के लिये डॉ वनू को पुष्पगुच्छ देकर सम्मान किया.

     देश को तरक्की की ओर ले जा रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों के कट्टर हिमायती डॉ वनू ने इस दौरान कहा कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत लोगों को जबरन नहीं बल्कि उन्हें जिम्मेदार बनाकर जोड़ने का ध्येय है. इसी तरह 'नजरिया' के माध्यम से लोगों के दिलों-दिमाग को स्वच्छ करने का प्रयास किया है. पूरा देश स्वच्छ होगा तो हम हमेशा स्वस्थ रहेंगे. महाराष्ट्र में मेरा प्रयास है कि हर गांव, गली, मोहल्ला और शहर साफ रहे. भ्रष्टाचारमुक्त, खुले में शौचमुक्त, प्लास्टिक-पाॅलिथीनमुक्त बनाने जैसी समस्याओं से निजात पाने के लिए देशवासियों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों को साकार करने की दिशा में सक्रिय रहने की अपील भी की.

Post a comment

 
Top