0

प्रसिद्ध राजनैतिक संवेक्षक, पत्रकार, प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया (पी टी आई) के संस्थापक, नवभारत टाइम्स के संपादक और वर्तमान में भारतीय भाषा सम्मेलन के अध्यक्ष डॉ वेद प्रकाश 'वैदिक' की ओर से प्रसिद्ध समाजसेवी, लेखक, शिक्षाविद, स्वच्छ भारत अभियान के महाराष्ट्र के 'कन्वीनर' और दादा साहब फाल्के फिल्म फाउंडेशन के महासचिव डॉ अब्दुल रहमान 'वानू' की पुस्तक 'नज़रिया' को सराहना मिली है.

 पिछले दिनों गुरुग्राम के एक समारोह में डॉ वेद प्रकाश 'वैदिक' ने 'नज़रिया' के बारे में कहा कि इस पुस्तक की भाषा और सामग्री इतनी सटीक है कि हर भारतीय की समझ में आसानी से आ जाएगी, साथ ही इस समाज में फैली बुराईयों और अच्छाइयों पर भी प्रकाश डालती है. निश्चित रूप से यह डॉक्टर अब्दुल रहमान 'वानू' का एक बहुत ही अच्छा प्रयास है.

 इस अवसर पर गीतकार, लेखक, निर्माता, निर्देशक और दादा साहब फाल्के फिल्म फाउंडेशन के अध्यक्ष अशफाक खोपेकर भी मौजूद थे.

Post a comment

 
Top