0

यूरो-डॉलर (EURUSD) की जोड़ी अगस्त 2020 की शुरुआत से अब तक 4.76 प्रतिशत मजबूत हुई है और इसके अंतरराष्ट्रीय समकक्ष यूरो-रुपए (EURINR) में इस दौरान 3 प्रतिशत की गिरावट आई है। इस बीच, इसी समय सीमा में डॉलर इंडेक्स में 4.2 प्रतिशत की गिरावट आई है। हालांकि, प्रमुख यूरोपीय अर्थव्यवस्थाओं में कोरोनावायरस के मामलों की बढ़ती संख्या के कारण यूरो हाल के दिनों में दबाव में रहा है। इस बारे में अधिक जानकारी दे रहें हैं एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के रिसर्च एनालिस्ट वकार जावेद खान।

यूरोप में स्पेन और फ्रांस बने नए हॉटस्पॉट: यूरोप की प्रमुख अर्थव्यवस्थाएं यूरोपीय संघ के अधिकांश हिस्सों में कोरोना वायरस मामलों की दूसरी लहर के बाद से पहले से जारी आर्थिक पूर्वानुमानों में और गिरावट कर रही हैं। ईयू ने कुल मिलाकर 6.3 मिलियन से अधिक केस दर्ज किए हैं। स्पेन में लगभग 9500 मामले दर्ज हो रहे हैं और फ्रांस में सितंबर की शुरुआत से हर दिन औसतन 14000 मामले दर्ज हो रहे हैं। स्पेन व फ्रांस के कुछ हिस्सों में प्रतिबंध और आंशिक रूप से लॉकडाउन के साथ 2020 की चौथी तिमाही में आर्थिक सुधार की संभावना है।

बैंक ऑफ स्पेन ने चेतावनी दी है कि 2020 में अर्थव्यवस्था के 10.5 प्रतिशत की गिरावट की संभावना है और सबसे खराब स्थिति में यह गिरावट 12.6 प्रतिशत हो सकती है। फ्रांस भी 2020 में जीडीपी में 9 प्रतिशत की गिरावट की उम्मीद कर रहा है।

यूरोपीय संघ की मदद में पीईपीपी पर फोकस: ईसीबी की मौद्रिक नीति की हालिया बैठक में कमेटी ने ब्याज दरों को अपरिवर्तित रखने का फैसला किया और प्रोत्साहन पैकेज के रूप में ब्लॉक में महामारी की मार झेल रहे देशों को सपोर्ट प्रदान करने का निर्णय लिया।

क्रिस्टीन लेगार्ड ने राजकोषीय नीति निर्माताओं से आग्रह किया कि वे महामारी की वजह से मंदी की मार झेल रहे ब्लॉक में आर्थिक सुधार में सहायता करने के लिए मौद्रिक पैकेज के साथ-साथ भारी खर्च जारी रखें। हालांकि, वर्ष के लिए जीडीपी के 100 प्रतिशत से अधिक के ऋण स्तर के साथ, चिंताएं बढ़ रही हैं कि क्या सरकार अधिक समर्थन और सब्सिडी के जरिए पुश दे पाएगी, इससे यह जोखिम भी बढ़ जाएगा कि बेरोजगारी और आय योजनाएं अचानक समाप्त हो सकती हैं।

हालांकि, यूरो क्षेत्र में सभी प्रयासों के बावजूद केंद्रीय बैंक के अनुसार आर्थिक सुधार अधूरा, अनिश्चित और असमान बना हुआ है और कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण अधिक प्रभावित होने की संभावना है। 

आउटलुक: अमेरिका में कोरोनोवायरस मामलों की दैनिक संख्या 50,000 मामलों के अपने पीक से गिरकर 30,000 केस प्रतिदिन से भी कम हो गई थी। लेकिन, सितंबर की शुरुआत के बाद से अमेरिका में दैनिक मामले फिर से 50,000 का आंकड़ा पार कर रहे हैं। मामलों की एक दूसरी लहर की ऐसी ही कहानी यूरोपीय संघ के अधिकांश हिस्सों में विशेष रूप से स्पेन और फ्रांस में भी अनुभव हो सकती है। 

इस बीच, यूएस फेड अर्थव्यवस्था को सपोर्ट करने के लिए अल्ट्रा-लूज मौद्रिक नीति पेश कर रहा है, लेकिन अमेरिकी लोगों और इसकी अर्थव्यवस्था की मदद के लिए राजकोषीय प्रोत्साहन के दूसरे दौर की अत्यधिक आवश्यकता है। यूएस फेड ने अपनी नवीनतम मौद्रिक नीति बैठक में 2023 तक लगभग शून्य ब्याज दरों की पुष्टि की और इस वजह से ईसीबी के साथ भी यही नीति जारी रहेगी।

इस बीच, यूएस 10 ईयर ट्रेजरी यील्ड में महामारी के शुरू होने के बाद से गिरावट जारी है क्योंकि निवेशक अभी भी ग्लोबल इकोनॉमी की रिकवरी को लेकर सतर्क हैं। यूएस 10 ईयर यील्ड महामारी के पहले यानी फरवरी 2020 के 1.204% के स्तर से गिरकर सितंबर 2020 में 0.716% तक पहुंच गई है।

अगस्त 2020 के बाद से EURUSD ने लगभग 5 प्रतिशत की मजबूती हासिल की है और केंद्रीय बैंकर भी इस पर नजर रख रहे हैं। हालांकि, अमेरिकी सरकार से राजकोषीय प्रोत्साहन की उम्मीद के साथ आने वाले महीने में इस जोड़ी की मजबूती जारी रहेगी। इस वजह से EURINR (सीएमपी: 86) नवंबर 2020 के अंत तक निचले स्तर पर 85 और उच्च स्तर पर 87 के बीच की रेंज में मूव करने के आसार हैं।

Post a comment

 
Top