0


~ भारत में उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए सलाहकार की भूमिका निभाएंगे ~

मुंबई : भारत के बढ़ते स्टार्टअप इकोसिस्टम और युवा उद्यमियों का समर्थन करने के लिए रितेश अग्रवाल देश के टिअर 1, 2 और 3 शहरों में उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए सलाहकार की भूमिका निभाएंगे और देश के सबसे बड़े इन्क्यूबेटर वेंचर कैटालिस्ट्स (वीकैट्स) के साथ मिलकर काम करेंगे। तेजी से बढ़ते हुए इकोसिस्टम, भारत को, जो दुनिया में सबसे बड़े और सबसे तेजी से बढ़ते हुए इकोसिस्टम में से एक है, ज़्यादा से ज़्यादा अनुभवी और सफ़ल लोगों की ज़रूरत है जो आगे आकर एक-दूसरे की मदद कर सकें और साथ मिलकर इकोसिस्टम को आगे बढ़ाते हुए देश को ‘आत्मनिर्भर भारत’ बनाएं। रितेश देश और अपने साथ उद्यमियों का समर्थन करने के लिए इस दिशा में काम कर रहे हैं, जिसमें उनके साथ डॉ. अपूर्व शर्मा भी हैं, जो उन शुरुआती लोगों में से हैं, जिन्होंने रितेश के विज़न का तब समर्थन किया था, जब उन्होंने 2012 में ओरावेल स्टेस शुरू किया था, और 2013 में ओयो स्थापित किया था।
रितेश अग्रवाल ने बताया कि, “वीकैट्स के साथ यह साझेदारी करके, मैं भारत के छोटे शहरों से आने वाले युवा उद्यमियों को सक्षम बनाना चाहता हूं, जिन्हें बड़े शहरों या महानगरों में रहने वाले उनके साथियों जैसे समान अवसर नहीं मिलते हैं। मुझे भरोसा है कि हम टिअर 3 या 4 शहरों से अगला बड़ा आइडिया खोज पाएंगे।
वेंचर कैटालिस्ट्स के संस्थापक डॉ. अपूर्व रंजन शर्मा ने कहा के "रितेश का अनुभव उद्यमियों के लिए काफी मूल्यवान साबित होगा, जिसके साथ ही हम भारत के सभी टिअर 1,2,3 और 4 शहरों में मौजूद स्टार्टअप्स के लिए एक मजबूत बुनियादी ढांचे का निर्माण करने की अपनी योजना पर अमल करना जारी रखेंगे। उनका अनुभव आने वाले ऐसे कई उद्यमियों के लिए मददगार साबित होगा, जो अगला यूनिकॉर्न बनने की क्षमता तो रखते हैं लेकिन उनके पास सही समर्थन और मार्गदर्शन की कमी है।

Post a comment

 
Top