0

 सामाजिक साहित्यिक व सांस्कृतिक संस्था काव्यसृजन की ८९वीं मासिक व पाँचवीं आनलाइन काव्यगोष्ठी कजरी महोत्सव प्रो. अंजनी कुमार द्विवेदी की अध्यक्षता व पंकज तिवारी के कुशल संचालन में सम्पन्न हुई। अपनी कजरी व राष्ट्रगीतों से महोत्सव को सजाने वाले कवि अरविंद श्रीवास्तव "असीम", सूरज दूबे "मुसाफिर", सदाशिव चतुर्वेदी "मधुर", श्रीधर मिश्र, महेन्द्र दूबे, मिल्टन राय, शिवप्रकाश "जौनपुरी", पंकज तिवारी, अवधेश यदुवंशी, इंदू मिश्रा, पूनम शर्मा, पूजा नाखरे, डॉ वर्षा सिंह, डॉ शैलबाला अग्रवाल, सुमन तिवारी, शालिनी शरल, रेखा पाण्डेय आदि ने अपनी स्वरचित कजरी राष्ट्रगीत की विडियो द्वारा दमदार उपस्थित दर्ज कराई। कवि कवयित्रियों ने एक से बढ़कर एक रचनायें सुनाई।
 अपने अध्यक्षीय भाषण में आदरणीय अंजनी कुमार द्विवेदी ने सभी कवियों की रचनाओं पर संक्षिप्त प्रकाश डालते हुए सबका उत्साह बढ़ाते हुए संस्था के इस आनलाइन आयोजन की भूरि भूरि प्रशंसा की। संचालक पंकज तिवारी के संचालन की भी मुक्तकंठ से सराहना की। संस्था के सभी पदाधिकारियों को भी साधुवाद दिया।
  संस्था के पूर्व अध्यक्ष रमाकांत ओझा "लहरी" के पिताजी व कार्याध्यक्ष अंजनी कुमार द्विवेदी के बडे़ पिताजी का विगत दिनो स्वर्गवास हो गया। उनकी आत्मा की शांति हेतु प्रार्थना की गई व भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की गई।
 अंत में उपाध्यक्ष श्रीधर मिश्र जी ने सभी कवि कवयित्रियों का आभार प्रकट करते हुए सभी रचनाकारों से निवेदन किया कि इसी तरह आप सब सहयोग बनाये रखें।

Post a comment

 
Top