0


~पहली बार दर्शकों को ‘सिंदूरी हनुमान’ देखने का मौका मिलेगा, ऐसा पहले कभी रामायण के अध्याय में नहीं देखा गया था~

मुंबई : आनंद सागर ने 2008 के रामायण में अभिनीता गुरमीत चौधरी, देबिना बनर्जी और विक्रम मस्तल को भगवान राम, देवी सीता और हनुमान के रूप में दर्शाया था। ऐसा पहली बार है जब आनंद सागर के रामायण में दर्शकों को ‘सिंदूरी हनुमान’ देखने का मौका मिलेगा, यह पहले कभी रामायण के अध्याय में नहीं देखा गया था। आनंद सागर का रामायण सफलतापूर्वक से दंगल टीवी पर चल रहा है।
सिंदूरी हनुमान की रचना के बारे में बताते हुए, शाहब शम्सी, (क्रिएटिव हेड, रामायण) ने कहा, "अब तक लोगों ने 'सिंदूरी हनुमान' नहीं देखा था। यह हनुमान का एक रूप है जिसके बारे में लोग जानते हैं, लेकिन इसे कभी भी दिखाया नहीं गया। इसलिए, हमने हनुमान के भक्तो को यह दिखाने का फैसला किया।
अभिनेता विक्रम मस्तल को सिंदूरी रंग से रंगना था जो एक श्रमसाध्य प्रक्रिया थी और ये मेकअप टीम के लिए पूरे शूट के दौरान मेकअप को बनाए रखना एक चुनौती का काम था। यह विक्रम के लिए भी एक समस्या बन गई क्योंकि वह कहीं बैठ नहीं सकता था और किसी चीज़ को छू नहीं सकता था वरना पूरा मेकअप खराब हो जाता।
सिंदूरी हनुमान की भूमिका निभाने वाले विक्रम मस्तल ने कहा, “मेकअप टीम ने लगभग 4 किलो सिंदूर घी
के साथ मिलाकर मेरे पूरे शरीर पर लगाया। इस सिंदूर प्रक्रिया में लगभग 2 घंटे लगे। मुझे यह सुनिश्चित करना था कि मैं कुछ छू न लूँ वरना मेकअप खराब हो सकता था। जब शॉट खत्म हो गया, तो मेकअप टीम को पूरी तरह सिंदूर हटाने में 8 घंटे लगे। सिंदूर हटाने की प्रक्रिया ज़्यादा थकान देने वाली थी।
सिंदूरी हनुमान का अध्याय हनुमान के स्नेह और भगवान राम के प्रती प्यार के महत्व पर जोर देता है ।
भगवान राम की दीर्घायु और खुशी के लिए, हनुमान ने सोचा कि सिन्दूर को अपने शरीर पर लगाने से भगवान राम अमर हो जाते।
आनंद सागर का रामायण एक बार फिर से लाखों दर्शकों का मनोरंजन कर रहा है।
वादों और विचारधाराओं के महाकाव्य रामायण को हर शाम 7.30 बजे और अगले दिन सुबह 9.30 बजे दंगल चैनल पर प्रसारित किया जाता है। 
दंगल टीवी सभी प्रमुख केबल नेटवर्क और डीटीएच प्लेटफॉर्म -DD फ्री डिश (CHN NO 27),) NO 27), टाटा
स्काई (CHN NO 177), एयरटेल (CHN NO 133), डिश टीवी (CHN NO 119) और वीडियोकॉन D2H (CHN
NO 106) में उपलब्ध है।

Post a comment

 
Top