0
मुंबई, 24 जून 2020: सोमवार को स्पॉट गोल्ड की कीमतें 0.7 प्रतिशत बढ़कर 1754.5 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुईं क्योंकि नए कोरोनोवायरस मामले अमेरिका और चीन के कुछ हिस्सों में लगातार बढ़ते रहे। एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के नॉन-एग्री कमोडिटीज एंड करेंसीज के चीफ एनालिस्ट प्रथमेश माल्या ने बताया कि महामारी के आसपास की अनिश्चितता ने सेफ-हैवन संपत्ति, सोने के लिए अपील बढ़ाई है।
अमेरिकी फेडरल रिजर्व की रिपोर्टों ने निराशाजनक तथ्य की ओर इशारा किया कि यदि पर्याप्त उपाय लागू नहीं किए गए तो बेरोजगारी बढ़ सकती है। दुनियाभर के केंद्रीय बैंकों ने व्यावहारिक प्रोत्साहन और आसव उपायों ने पीली धातु की कीमतों को सपोर्ट किया है।
सोमवार को स्पॉट सिल्वर की कीमतें 1.25 प्रतिशत बढ़कर 17.8 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुई। एमसीएक्स पर कीमतें 0.28 प्रतिशत कम होकर 4,8500 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुईं।
डब्ल्यूटीआई क्रूड की कीमतें 1.79 प्रतिशत बढ़कर 40.5 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुईं क्योंकि ओपेक ने आक्रामक उत्पादन कटौती को जारी रखने के अपने फैसले को कायम रखा।
हालांकि, कच्चे तेल के लाभ सीमित ही रहे, क्योंकि चीन जैसे कई स्थानों पर, कोरोनोवायरस के नए मामले सामने आए हैं। पहले से ही दुनियाभर में हवाई और सड़क यातायात पर प्रतिबंध की वजह से कमजोर मांग ने तेल की कीमतों में वृद्धि को सीमित कर दिया है।

Post a comment

 
Top