0
मुंबई के स्‍लम्‍स और पुलिस बल में 400,000 सैनिटरी नैपकिन्‍स बांटने के लिए बीएमसी और बीईएसटी के साथ सहयोग किया 
   एस्सार फाउंडेशनजो एस्सार की सीएसआर शाखा हैने सहज एप्‍प लॉन्‍च किया। यह एप्‍प मासिक चक्र के दौरान स्‍वच्‍छता को लेकर जागरूकता को बढ़ावा देता है। इसने बीएमसी (बृहन्‍मुंबई महानगरपालिका) और बीईएसटी (बृहन्‍मुंबई इलेक्ट्रिक सप्‍लाई एंड ट्रांसपोर्ट) के सहयोग से मुंबई स्‍लम्‍स और मुंबई पुलिस की महिलाओं के बीच 400,000 से अधिक सैनिटरी नैपकिन्‍स बांटे भी है।

सहज एप्‍प को मासिक धर्म स्वच्छता जगत में काम करने वाले प्रमुख एनजीओ (गैर सरकारी संगठनों)रोटारैक्ट क्लबकवच ए मूवमेंट और घरबचाओघरबानाओआंदोलन के परामर्श से तैयार किया है। एंड्रॉयड-आधारित यह एप्‍प महिलाओं में सम्‍मान के साथ मेंस्‍ट्रुएशन के लिए वन-स्‍टॉप समाधान उपलब्‍ध कराता है। यह रियायती दरों पर हाइजिनिक उत्‍पादों को लेकर मेंस्‍ट्रुअल हेल्‍थ बनाये रखने हेतु किशोरियों को प्रोत्‍साहित करता है।
सहज एप्‍प में महिलाओं के नेतृत्व वाले सूक्ष्म उद्यमों और एसएचजी (सेल्फ हेल्प ग्रुप्सद्वारा निर्मित मासिक धर्म उत्पादों का एक प्रकार का ई-स्टोर है। यह महिलाओं को वंचित महिलाओं को सैनिटरी नैपकिन दान करने के लिए एक मंच प्रदान करता हैसाथ ही आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को सही मासिक धर्म स्वच्छता पर ग्रामीण भारत की लड़कियों को शिक्षित करने के लिए सही जानकारी से लैस करता है। इसके अतिरिक्तएप्‍प इंटरैक्टिव गेम-आधारित शिक्षाप्रसिद्ध डॉक्टरों द्वारा शैक्षिक वीडियो और एक अवधि ट्रैकर के माध्यम से मासिक धर्म स्वच्छता जागरूकता को बढ़ावा देने के लिए अद्वितीय तरीके प्रदान करता है। यह एप्‍प तीन भाषाओं में उपलब्ध हैहिंदीमराठी और अंग्रेजी और हर आयु वर्ग की हर महिला की अनुकूलित जरूरतों को पूरा करता है।
 कौस्तुभ सोनालकरएस्सार के ग्रुप प्रेसिडेंट-एचआर और सीईओ एस्सार फाउंडेशन ने कहा:मासिक धर्म के दौरान स्वच्छता को बढ़ावा देना एस्सार फाउंडेशन में हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। हमने महिलाओं के स्वास्थ्य और सशक्तीकरण में क्रांतिकारी बदलाव के लिए सहज एप्‍प लॉन्च किया है। यह सुनिश्चित करेगा कि समाज के सभी वर्गों की महिलाएं एक स्वस्थ जीवन जी सकेंऔर अर्थव्यवस्था के लिए अधिक सक्रिय योगदानकर्ता बन सकें। सहज केवल मासिक धर्म स्वच्छता प्रबंधन एप्‍प नहीं है। यह मासिक धर्म के प्रति संवेदनशीलअभी तक मुखरता से जोड़ने वाला एक आंदोलन हैजिसके जरिए कोविड-19 संकट के दौरान कई महिलाओं को मासिक धर्म स्वच्छता उत्पादों और सेवाओं को सुलभ कराने में मदद करेगा। हम आशा करते हैं कि साहेज महिलाओं को सही जानकारी और उत्पादों से लैस करने के लिए भौगोलिक और भाषाई बाधाओं को तोड़ने में मदद करेगा।
एस्सार फाउंडेशन के बारे में आपको बता दें कि पिछले 50 वर्षों मेंएस्सार ने अपने संचालन के आसपास के क्षेत्रों में रहने वाले समुदायों के साथ मिलकर काम किया है। 2011 के बाद सेएस्सार फाउंडेशन ने परोपकारीप्रोग्रामेटिक तरीके से परोपकारी कार्यों को अंजाम दिया। इसकी गतिविधियों को साझा मूल्य की अवधारणा से प्रेरित किया जाता हैजिसके तहत एस्सार समुदायों के लिए एक समावेशी वातावरण बनाने का प्रयास करता है, जो ऊर्जाअवसंरचनाधातु और खननसेवा और प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में अपने व्यवसाय संचालन के माध्यम से प्रभावित करता है। गैर-मुनाफे और स्थानीय प्रशासनों के सहयोग से काम करते हुएफाउंडेशन आज आठ भारतीय राज्यों के 500 गांवों के 500,000 लोगों तक महिला सशक्तिकरण,आजीविका और उद्यमिताशिक्षापर्यावरण संरक्षण और स्वास्थ्य सेवा और स्वच्छता के क्षेत्रों में पहुंचता है।

Post a comment

 
Top