1








 तीन छत्तीसगढ़ी म्यूजिक वीडियो में मुख्य भूमिका निभाने वाले मुम्बई वासी प्रतिभाशाली कलाकार मुन्ना शर्मा इन दिनों बहुत प्रफुल्लित हैं क्योंकि वह हमेशा से अपनी मातृभूमि से जुड़कर कला के क्षेत्र में अपना योगदान देना चाहते थे। इस अवसर की प्राप्ति में उन्होंने बहुत संघर्ष किया है। अलबम के निर्माता सोमा शेखर का आभार व्यक्त करते हुए मुन्ना ने कहा कि सोमा जी मेरे लिये गॉडफादर के समान हैं। इसके अलावा इस अलबम के निर्माण में छत्तीसगढ़ के भगत बंजारे, अमित जांगड़े, चोवाराम बघेल, राजेश रात्रे, दादू साहू और महावीर सिंह चौहान का विशेष सहयोग प्राप्त हुआ है। साथ ही गावडा जी का भी आभारी हूँ।
मुन्ना ने आगे बताया कि तीन अलबम क्रमशः 'लागे रे मया लागे, तोर मीठ मीठ बोली, मोर आँखी म तैं' की वीडियो की शूटिंग राजधानी रायपुर व उसके आसपास के मनोरम स्थलों पर की गई है। इन तीनों गीतों को छत्तीसगढ़ के लोकप्रिय गायक सुनील सोनी, दीपशिखा और आकाश चंद्राकर ने गाया है। आकाश चंद्राकर ने ही गीत संगीत के साथ इस एलबम का निर्देशन, छायांकन व संपादन किया है और कोरियोग्राफी दिलीप बैस द्वारा की गई है।
 अलबम का निर्माण साई एस एस जी द्वारा सोमा शेखर ने किया है। तीनों गानों में मुन्ना के साथ पूजा देवांगन, अंजना दास और ज्योति वैष्णव ने अभिनय किया है।
आपको बता दिया जाए कि मुन्ना शर्मा बलौदा बाजार के समीप गिधपुरी गांव के रहने वाले हैं और पिछले 22 वर्षों से मुम्बई में अभिनय और गायिकी में सक्रिय हैं। वह प्रसिद्ध गायक सुरेश वाडकर के संगीत विद्यालय से प्रशिक्षित हैं। मुन्ना ने कई शॉर्ट फिल्म, अलबम व फ़िल्मों में अभिनय किया है। 2019 में उन्होंने भारत के प्रथम शिक्षामंत्री मौलाना अबुल कलाम आज़ाद की बायोपिक 'मौलाना आज़ाद - एक मसीहा' में एक क्रांतिकारी की भूमिका निभाई है।
मुन्ना ने कला के प्रति अपना जीवन समर्पित कर दिया है। वह अमिताभ बच्चन के अभिनय से बेहद प्रभावित है तथा उनके आदर्श हरफनमौला गायक अभिनेता किशोर कुमार हैं।

संतोष साहू

Post a comment

 
Top