0


बिहार - पटना दानापुर राजेंद्र रेसीडेंसी के प्रांगण में एक मार्च 2020 को अखिल भारतीय रौनियार वैश्य महासभा के द्वारा होली मिलन एवं आम सभा का आयोजन हुआ जिसमें हजारों की संख्या में देश के अलग अलग राज्य जिला पंचायत स्तर के कार्यकर्ता व पदाधिकारी भाग लिये। संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के पूर्व डीजीपी अशोक कुमार गुप्ता द्वारा निम्न एजेंडा पस्तुत किया गया जिसमें समाज में व्याप्त घरेलु हिंसा, महिलाओं पर अत्याचार, विवाह विच्छेद, दहेज उत्पीड़न, भाई भाई में विवाद, पति पत्नी के झगड़े को सुलझाने के लिए कमिटी का गठन प्रमुख है।
अशोक कुमार गुप्ता ने अपने संबोधन में कहा कि मैंने कभी चोर उचक्कों के साथ बैठक नही की। लेकिन कुछ समाज के लोग समाज को सेवा के नाम पर बर्बाद कर दिए। तत्पश्चात वे अटल जी के कविता का पाठ किये और समाज को आश्वासन दिए कि कितनी भी बाधा आये हम समाज को आगे लेकर जाएंगे। उन्होंने आगे कहा संस्था काफी पुराना है लेकिन ट्रस्ट में काफी सालों से कोई ऑडिट रिपोर्ट जमा नहीं किया था इसलिए संस्था ब्लैक लिस्ट में चला गया था। मैं रजिस्टार से मिलके ऑडिट करवाकर अपने पूर्वज द्वारा बनाये गये संस्था को जिंदा किया। इस कार्यक्रम के साथ मेडिकल कैम्प का भी आयोजन रखा गया था।
 चर्चा के समर्थन में अपने संबोधन में महासभा महाराष्ट्र के अध्यक्ष शुभ नारायण साह ने कहा कि समाज के सभी लोगों को वाट्सअप और सार्वजनिक रुप से निंदा करने से बचना चाहिए तथा एक दूसरे को सम्मान और मदद करना चाहिए जिससे एक आदर्श सामाजिक वातावरण निर्माण हो। उन्होंने अपनी हिन्दी पत्रिका 'वणिका दर्पण' का उल्लेख किया जिसके माध्यम से सामाजिक कार्यक्रम का ब्यौरा समाज और सरकार तक पहुँचाते रहते हैं। वे समाज के सभी सदस्यों को आव्हान किये कि पत्रिका से जुड़ें, अपना लेख, विचार, विज्ञापन, वैवाहिक विज्ञापन देकर पत्रिका को सहयोग करें। उन्होंने कहा कि समाज के कुछ लोग मुंबई और महाराष्ट्र के समाज को भी गुमराह कर दो भागों में बांटने की कोशिश करने में लगे हैं। साह ने राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के पूर्व डीजीपी अशोक गुप्ता और कर्नाटक राज्य के पूर्व डीजीपी और आईजीपी ओमप्रकाश साह और उद्योगपति जयकिशोर प्रसाद की तारीफ की और कहा कि इतने बड़े हस्ती समाज को नेतृत्व और प्रोत्साहन देने के लिए आज इस मंच पर खड़े हैं। कितनी सौभाग्य की बात है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक कुमार गुप्ता ने मुझे कर्नाटक राज्य के पूर्व डीजीपी और आईजीपी ओमप्रकाश साह द्वारा मोमेंटो देकर मेरा सम्मान करवाए। समाज के सदस्यों को इनसे का लाभ लेना चाहिए। कार्यक्रम के प्रमुख अतिथी कर्नाटक राज्य के पूर्व डीजीपी और आईजीपी ओमप्रकाश साह ने लकड़ी के बंडल की कहानी का याद दिलाया और समाज को संगठित होना समाज के लिए बेहद जरूरी बताया तथा उन्होंने दीप प्रज्ज्वलित किया और सम्राट हेमचंद्र विक्रमादित्य रौनियार के प्रतिमा पर फूल का हार अर्पित किए। चर्चा में भाग लेने वाले उद्योगपति जयकिशोर प्रसाद, अजय गुप्ता विशाल आनंद, श्रीमती आशा गुप्ता, कामेश्वर गुप्ता, बालेशर मोदी, संजीवनी भारती, पूनम गुप्ता, शशी शेखर गुप्ता, राजू गुप्ता थे। कार्यक्रम का संचालन प्रमोद गुप्ता एवं संतन गुप्ता ने किया।

Post a comment

 
Top