0


 नवोदित हर्ष कुमार और मॉडल तूलिका सिंह के अभिनय से सजी फिल्म 'ख्वाब सारे झूठे' के निर्देशक दीपक बलदेव ठाकुर का कहना है कि इस फिल्म में कलाकार भले ही नए हैं मगर इसके टेक्नीशियन दिग्गज लोग हैं।
दीपक बलदेव ठाकुर कहते हैं, जैसा कि टाइटल है वास्तविक जीवन में भी 'ख्वाब सारे झूठे' होते हैं। ऐसा नहीं है कि सपने पूरे नहीं होते लेकिन उसका एक प्रोसेस होता है उसमे वर्षों लग जाते हैं। जैसे मैंने एक हिंदी फिल्म डायरेक्ट करने का ख्वाब देखा था लेकिन इस सपने को पूरे होने में पंद्रह साल लग गए। काफी मेहनत और चुनौतियों के बाद यह मुकाम हासिल किया। इस फिल्म में यह बताने की कोशिश की गई है कि सपने देखिये मगर उसकी राहों में आने वाली दिक्कतों के लिए भी तैयार रहिये वरना सपने के साथ साथ जिंदगी भी बिखर के रह जाती है। आजकल के युवा लोग कहते हैं कि उन्हें कैरियर सबसे अहम है और इसी कैरियर के चक्कर में वह रिश्ते, नाते, रिलेशनशिप, एथिक्स और मोरल्स सबसे दूर चले जाते हैं। अंत में न तो उन्हें कैरियर में कामयाबी मिलती है और न ही रिश्ते निभा पाते हैं फिल्म यह बेहद महत्वपूर्ण मैसेज देती है।
 बता दें कि फिल्म के निर्देशक दीपक बलदेव ठाकुर खुद एक अच्छे अभिनेता हैं और वह सालों से साउथ में अभिनय गुरु के रूप में भी जाने जाते हैं। उनकी हैदराबाद में एक्टिंग अकैडमी है। जहां से बहुत से कलाकार एक्टिंग सीखकर साउथ की फिल्म इंडस्ट्री में अपना नाम रोशन कर रहे हैं। बॉलीवुड अभिनेत्री नेहा शर्मा भी उन्हीं की देन है। अभिनय गुरु दीपक बलदेव ठाकुर साउथ फिल्म इंडस्ट्री में अभिनय सिखाने के साथ-साथ कास्टिंग का भी कार्य करते हैं। वह कई बड़े निर्देशकों के साथ साउथ में एसोसिएट डायरेक्टर के रूप में भी कार्य कर चुके हैं साथ ही वह बतौर निर्माता भी एक फिल्म का निर्माण कर चुके हैं। उनके डायरेक्शन में बनी यह पहली फिल्म है। बॉलीवुड में दीपक ठाकुर अभिनय गुरु के रूप में कार्य करने वाले पहले फिल्म निर्देशक हैं। ग्लिटर्स फिल्म अकेडमी और ए जी एंटरटेनमेंट के बैनर तले बनी फिल्म ‘ख्वाब सारे झूठे’ 7 फरवरी 2020 को रिलीज होगी।

Post a comment

 
Top