0
स्क्रीन राइटर्स एसोसिएशन के लिये साल 2020 हीरक जयन्ती वर्ष (डायमंड जुबली ईयर) है। इस मौके पर एसडब्ल्यूए अवार्ड्स की घोषणा की गयी है। इसके अंतर्गत भारत में पहली बार हिन्दी फिल्म, टीवी सीरियल और वेब सीरीज़ के लेखकों और गीतकारों को उनके लेखन के लिए पुरस्कृत किया जाएगा।
इस अवार्ड की शुरुआत के पीछे एसडबल्यूए की मंशा है कि उत्कृष्ट स्क्रीनराइटिंग को सम्मानित और प्रोत्साहित किया जाये। एसडबल्यूए अवॉर्ड में लेखकों को टिकट खिड़की के आंकड़ों, टीआरपी, बजट आदि पर नहीं बल्कि लेखकीय गुणवत्ता के आधार पर परखा और सराहा जाएगा। प्रबुद्ध लेखकों-गीतकारों का एक निर्णायक मंडल (ज्यूरी) विजेताओं का चयन करेगा।
एसडब्ल्यूए अवार्ड 2020 का लक्ष्य है कि यह अवार्ड भारत में लेखकों के लिए उसी तरह एक प्रतिष्ठित अवार्ड बने, जैसे अंतरराष्ट्रीय राइटर्स गिल्ड और अन्य साहित्यिक संस्थानों के अवार्ड देश दुनिया में विख्यात हैं।
मुम्बई स्थित स्क्रीन राइटर्स एसोसिएशन के फिलहाल 30 हज़ार से अधिक सदस्य हैं। यह एसोसिएशन अपने सभी लेखक-सदस्यों के क़ानूनी अधिकारों की रक्षा के लिए सतत संघर्षरत है। एसडबल्यूए के प्रयासों से सिनेमा, टीवी और वैब माध्यमों के सृजन में केन्द्रीय भूमिका निभाने वाले के लेखकों और गीतकारों को फ़िल्म और टीवी इंडस्ट्री में अधिक पहचान मिलने लगी है।
भारत में हर साल अनेकानेक अवार्ड समारोह किये जाते हैं। लेकिन आमतौर से देखा गया है कि इन समारोहों में लेखकों को टैक्नीकल श्रेणी में खानापूर्ति की तरह अवॉर्ड थमा दिया जाता है। इतना ही नहीं, कहा जाता है कि लेखकों के अवार्ड को गुणवत्ता पर कम, बल्कि लोकप्रियता या बॉक्स ऑफिस या अन्य व्यावसायिक मानकों पर तय किया जाता है।
दूसरी तरफ एसडब्ल्यूए अवार्ड जानकार, अनुभवी और विश्वसनीय लेखकों के निर्णायक मंडल द्वारा पूरी तरह ईमानदार, निष्पक्ष और जवाबदेह प्रक्रिया का पालन करते हुए वर्ष के उत्कृष्ट लेखन का आकलन और चयन किया जायेगा। एसोसिएशन का मानना है कि एक लेखक, दूसरे लेखक की कला और शिल्प की बारीकियों की सराहना करने के लिए सबसे उपयुक्त व्यक्ति है। इसके अलावा, ख़ुद की बिरादरी द्वारा सम्मान प्राप्त करना किसी भी कलाकार के लिए एक महत्वपूर्ण बात है।
एसोसिएशन के वर्तमान अध्यक्ष रॉबिन भट्ट, जो कि अब तक 75 से अधिक फ़िल्में लिख चुके हैं, का कहना हैं, “यह अवार्ड अच्छे लेखन की पहचान करने और उन्हें पुरस्कृत करने से कहीं ज्यादा इस इंडस्ट्री में लेखकों की होती उपेक्षा को उजागर कर अच्छे लेखकों को केंद्र में लाने के लिए है।
वहीं एसोसिएशन के मानद महासचिव (जनरल सेक्रेटरी) सुनील सालगिया कहते हैं, "वाहवाही, प्रशंसा और सराहना ही लेखक के लिए एकमात्र पुरस्कार हैं, जो उसे मज़बूत बनाता है। इसलिए आपके प्रतियोगी, मित्र और साथियों द्वारा दिए गए पुरस्कारों से बड़ा कोई पुरस्कार नहीं हो सकता है।
पहले अवार्ड के लिए, वर्ष 2019 में रिलीज़ या प्रसारित हुई हिंदी फ़ीचर फ़िल्मों, टेलीविज़न शो और वैब सीरीज़ पर विचार किया जाएगा। मनोरंजन की इन तीनों विधाओं में सर्वश्रेष्ठ स्क्रिप्ट, स्क्रीनप्ले, संवाद, सर्वश्रेष्ठ गीत की कुल 15 श्रेणियों में अवार्ड के लिए प्रतिस्पर्द्धा होगी। जहाँ एक ओर, 2019 में रिलीज़ होने वाली सभी फ़ीचर फ़िल्में स्वतः ही फ़ीचर फ़िल्म श्रेणियों में पुरस्कारों के लिए शामिल मानी जायेंगी, टेलीविजन शो और वैब सीरीज़ के लेखकों को एसडबल्यूए की वैबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा। आवेदन प्रक्रिया 20 दिसम्बर 2019 से 20 जनवरी 2020 तक जारी रहेगा।
आवेदन जमा करने की तिथि : 20 दिसंबर 2019 से 20 जनवरी 2020 तक (मध्यरात्रि)।
अवार्ड समारोह: 16 मई 2020
समारोह स्थल: सैंट एंड्रयूज़ ऑडिटोरियम, बांद्रा (पश्चिम), मुम्बई।
इस वर्ष कुल 15 श्रेणियों में एसडब्ल्यूए अवार्ड दिए जायेंगे।
अधिक जानकारी और आवेदन जमा करने के लिए इस लिंक पर जायें: https://awards.swaindia.org/ 

Post a comment

 
Top