0






मुंबई - निकिता रावल एक अभिनेत्री के साथ साथ प्रोड्यूसर, एंटरप्रेन्योर, डांसर और राजनीतिज्ञ भी है। बतौर अभिनेत्री फ़िल्म में किये गए उनके काम और सहयोग को देखते हुए, मिड डे की तरफ से मुंबई के ग्रैंड हयात में आयोजित कार्यक्रम में उन्हें शो बिज़ आइकॉन अवार्ड से सम्मानित किया गया। इस अवॉर्ड शो में बिजनेसमैन, मीडिया और बॉलीवुड के कई सितारे जैसे नील नितिन मुकेश, उर्वशी रौतेला, शमा सिकंदर, जसपिंदर नरुला, जयंतीलाल गडा, डायरेक्टर अनिल शर्मा, उत्कर्ष शर्मा, मिलन गुन्नजी और करिश्मा कपूर आदि कार्यक्रम में उपस्थित हुए।
 अभिनेत्री निकिता रावल को इससे पहले भी दादासाहब फाल्के फिल्म फाउंडेशन अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है। निकिता को यह अवॉर्ड फिल्म इंडस्ट्री में उत्कृष्ट योगदान व अनाथ बच्चों की मदद करने के लिए दिया गया है। उन्होंने पचास एड्स पीड़ित बच्चों को गोद लिया है साथ ही उनकी एनजीओ आस्था फाउंडेशन गरीब बच्चों और मानव कल्याण से जुड़े कार्यक्रम करते रहते हैं। निकिता का कहना है कि ऐसे लोगों खासकर बच्चों की सहायता करने में उन्हें आत्मिक संतुष्टि प्राप्त होती है, उनकी खुशी में ही उन्हें खुशी मिलती है इसलिये उन्होंने अपनी दीवाली एड्स पीड़ित बच्चों संग मनाई।
  निकिता रावल, जिन्होंने अपने बॉलिवुड करियर की शुरुआत फिल्म ‘मिस्टर हॉट मिस्टर कूल’ से वर्ष 2007 में की। लेकिन उन्होंने बॉलिवुड में एक खास नर्तकी के तौर पर अपनी पहचान बनाई और हजारों शो और इवेन्ट में हिस्सा ले चुकी हैं।
उन्होंने अपनी डेब्यू फिल्म के अलावा ‘द हीरो अभिमन्यु’, ‘अम्मा की बोली’, ‘रोटी कपड़ा और रोमांस’, ‘ब्लैक एंड व्हाइट’, ‘क्यूट कमीना’ में भी काम किया है, साथ ही निकिता ने तीन तेलुगु फिल्म में भी काम किया है।
अभिनेत्री निकिता का जन्म मुंबई के बोरीवली शहर में एक गुजराती परिवार में हुआ। उनके पिता कार्डियक सर्जन है। वह बचपन से ही डांस और एक्टिंग का शौक रखती है। उन्होंने बिरजू महाराज से बाकायदा कथक की प्रशिक्षण प्राप्त की है साथ ही कुचिपुड़ी और वेस्टर्न डांस में भी निकिता पारंगत है। वह कई म्यूजिक एलबम में काम कर चुकी है।
 निकिता राजनीति के क्षेत्र में भी रुचि रखती हैं। वह मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के प्रतिनिधित्व में भी कम कर रही है और लोगों की सेवा करने की अपने संकल्प को पूरा करने की कोशिश जारी रखी हैं।
  निकिता बहुत ही आत्मविश्वासी, निर्भीक और स्वाभिमानी महिला है। उनका कहना है कि एक्टिंग और डांसिंग के जरिये वह लोगों का सदा मनोरंजन करते रहेंगी साथ ही वह चाहती है कि अभी भी देश में कुछ इलाकों में चल रही बाल विवाह जैसी कुप्रथा समाप्त हो और महिलाओं के यौन शोषण और उत्पीड़न पर सख्त कानून बने जिसमें तुरंत फैसले हो महिलाओं को बार बार कानून का दरवाजा खटखटाना ना पड़े। निकिता अपने आस्था फाउंडेशन की मदद से निरंतर लोगों की सहायता कर रही है।

Post a comment

 
Top