0

मिशन पत्रकारिता ने दी धरना प्रदर्शन की चेतावनी 

मि.प. पत्रकारिता /मुंबई 
    मुंबई में एक बार फिर लोकशाही के चौथे आधार स्तंभ पत्रकार को एक नेता ने फर्जी केस में फंसाने की धमकी दे डाली।  मालाड के पूर्व भाजपा नगरसेवक एडवोकेट ज्ञानमुर्ति शर्मा ने अपनी खबर न छापने को लेकर आर पी न्यूज़ नेशन के पत्रकार राजेश पांडे को धमकी दी है कि उन्हें किसी भी फर्जी मामले में फंसा कर जेल भेज दिया जायेगा।  मामले की शिकायत क़ुरार पुलिस थाने में की गई है।  जबकि पत्रकारिता की आज़ादी पर अंकुश लगाने के विरोध में सकारात्मक पत्रकारों की संस्था मिशन पत्रकारिता ने भी आपत्ति जताई है और चेतावनी जारी की है कि किसी भी पत्रकारों पर फर्जी कार्रवाई हुई तो संस्था के सभी पत्रकार मिलकर मंत्रालय के समक्ष धरना प्रदर्शन करेंगे।  
    पत्रकार राजेश पांडेय ने मिशन पत्रकारिता को दी जानकारी के मुताबिक वे साफ़ सफाई को लेकर स्थानीय खबर को कवर कर रहे थे।  मामला मलाड रीलाइन के पास के टॉयलेट का है। जहाँ गन्दगी से लोगों का जीना मुहाल हो गया है।  वही टॉयलेट की हालत खस्ता होने के कारण वह कभी भी ध्वस्त हो सकता है। अतः इस मामले को लेकर स्थानिक रहिवासियों ने वॉर्ड 44 की भाजपा नगरसेविका संगीता ज्ञानमुर्ति शर्मा को सफाई के लिए लिखित निवेदन देकर यह जानकारी दी थी कि टॉयलेट की हालत नाजुक होने के कारण कभी भी कोई बड़ी दुर्घटना हो सकती है।  हालांकि इस शिकायत पर किसी तरह की कोई कार्रवाई न होने पर स्थानीय लोगों ने मीडिया से मदद मांगी।  लोगोने अपनी शिकायत पत्रकार राजेश पांडे को लिखित में दी थी।  उसके बाद पूरी खबर को पत्रकार राजेश पांडेय ने वायरल किया।  जिसके बाद आग बोला होकर नगरसेविका के वकील पति ने फोन पर ही पत्रकर को धमकी दे डाली।  
     गौरतलब है कि इस मामले को लेकर पत्रकार ने नगरसेविका संगीता ज्ञानमुर्ति शर्मा से जब बात करनी चाही तब उन्होंने बात करने से इंकार करते हुए फोन काट दिया गया।  मगर स्थानीय शिवसेना विधायक सुनील प्रभू के पास यह विषय पंहुचा तो उन्होने अपना पक्ष रखा और कहा कि गलत अफवाहों पर ध्यान न दे।  वे जल्द ही नवरात्री के बाद से टॉयलेट का काम शुरू करेंगे।  
    इस पूरी खबर को पत्रकार ने जनता से के साथ की बातचीत के साथ अपने यूट्यूब चॅनल पर अपलोड किया। तभी  दूसरे दिन नगरसेविका के पति एडवोकेट ज्ञानमुर्ति शर्मा का सुबह 11:08 मिनिट पर फोन कर पत्रकार को छूटे केस दर्ज कर फ़साने की धमकी दी जाती है
    इसके विरोध में पत्रकार राजेश पांडे ने भाजपा नेता के खिलाफ कुरार पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करायी  है। जबकि मिशन पत्रकारिता ने लिखित रूप से मुख्यमंत्री को इस बात से अवगत कराकर उचित कार्रवाई की मांग की है।  

Post a comment

 
Top