0

बॉलीवुड में देशभक्ति गीतों हो हमेशा से पसंद किया जाता है कभी जोश जगाने वाले तो कभी देश की विविधताओं  और देश पर अपने प्राणों का उत्सर्ग करने वालें शहीदों के बलिदान से प्रेरणादायी गीतों के  माध्यम  से युवाओं को देशभक्ति की भावना से परचित कराते हैं । देश के  ६९ गणतंत्र दिवस के अवसर देश की रक्षा करते हुए शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि  समर्पित करने के उद्देश्य से भावेश भानुशाली और हिरेन भानुशाली द्वारा "मैं अमर हो गया " पैट्रोटिक सिंगल (देशभक्ति गीत) का मुंबई में भव्य लांच हुआ । इस अवसर पर  मशहुर अभिनेत्री अपरा मेहता के साथ भावेश भानुशाली  ,  हिरेन भानुशाली , निर्देशक  सुधीर डी टंडेल और संगीतकार शिवराम उपस्थित थे।  

  गाने के वीडिओ में मशहूर अभिनेत्री सुधा चंद्रन , हिरेन भानुशाली और भावेश भानुशाली नजर आयेंगे।  गीत में सुधा चंद्रन देश की रक्षा करते हुये जान देने वाले शहीद की माँ की भूमिका में है तो सैनिक की  भूमिका में हिरेन भानुशाली है।  बड़ी ही भावनात्मक कहानी में एक सुखी परिवार जिसे अपने बेटे (हिरेन भानुशाली) के सैनिक होने पर गर्व है एक दिन अपने बेटे के शहीद  होने की दुखद सूचना मिलती है।  शहीद की माँ , पिता , बहन और पत्नी अपने घर के इकलौते चिराग़ के देश के ऱक्षा करते हुवे गौरवान्वित तो है लेकिन बेटे से हमेशा बिछड़ जाने का गम है।  उनके इस गम को गीत के जरिये हिरेन अपने परिवार को समझाना चाहते हैं की वह शहीद नहीं हुए है वह तो अमर हो गए है , गाने के बोल में हिरेन की बचपन की यादे है जब वह माँ और    पिता  की गोद में बड़े हो रहे है तो बहन के साथ बचपन  की शरारतें और ठिठोलियाँ भी है और पत्नी के साथ भावनात्मक पल है  परिवार के सभी सदस्य हिरेन  के साथ बिताएं पल को याद करते हुए भावुक हो जाते है लेकिन हिरेन परिवार को यह  समझाना चाहते है कि उन्हें देश के लिए बलिदान होना था  और  वह शहीद नहीं हुए है  बल्कि अमर हो गए है  अपनी माँ की गोद को छोड़कर भारत माँ के  आँचल में सो गए है । 

"मैं अमर हो गया " के भावनात्मक बोल गीतकार संजय मिश्रा ने लिखे है और संगीतकार शिवराम हैं। गाने को सुधीर डी टंडेल ने निर्देशित किया है और चैतन्या ने एडिटिंग की है। के लांच के अवसर पर भावेश भानुशाली बताया  "हमारा यह प्रयास वीर सैनिको के प्रति श्रद्धांजलि है एक सैनिक का भी परिवार होता है खुशियाँ होती है वह सब कुछ छोड़कर देश के रक्षा के लिए वह अपनी जान की बाजी लगा देता है हम देश के बहादुर सैनिको को सैल्यूट करते हैैं । 

Post a comment

 
Top