0

मुंबई और नवीमुंबई से लगभग 18 अंगदानकर्ताओं को पुरस्कृत किया 

 नवीमुंबई अपोलो हॉस्पिटल ने  ऑर्गनडोनर सपोर्ट ग्रुप मिलन का आयोजन किया और इस अवसर पर अपने अंगदान कर मरीजों की जिंदगी बचाने के लिए अंगदानकर्ताओं एव परिवार के रिश्तेदारों को सन्मानित किया। शहर में एक साल पूरा करने के बाद हॉस्पिटल ने 16 लिवर ट्रांसप्लांट (डिजीज्ड डोनर लिवर ट्रांसप्लांट 6 और लिविंग डोनर लिवर ट्रांसप्लांट 10) 12 रेंटल ट्रांसप्लांट (डिजीज्ड डोनर रेनल ट्रांसप्लांट 4 और लिविंग डोनर रेनल ट्रांसप्लांट 8) संचालित किए। मुंबई, नवीमुंबई, नासिक और इंदौर के लगभग 18 डोनर्स को प्रो डेरियस एफ मिर्जा ने सन्मानित किया।

अंगदान के लिए जरुरत को दर्शाते हुए प्रो डेरियस एफ मिर्जा, हेड, एचपीबी और ट्रांसप्लांट, अपोलो हॉस्पिटल, नवीमुंबई ने कहा, ''कई मरीज ऑर्गन फेल्योर के आखिरी चरण से गुजर रहे है और उन्हें अंगो की सख्त जरुरत है। अंगदान को लेकर अभी भी लोगों में जागरूकता का अभाव है और कई मिथक फैले हुए है। सपोर्ट ग्रुप मीट अंगदान पर शिक्षित करते है और जिंदगी बचाने के योगदान की कद्र भी करते है।''

डोनर की दान करने की प्रेरणादायक कहानियों को प्रदर्शित किया गया। पिता से लेकर बेटी तक, बेटे से लेकर पिता तक, पत्नी से लेकर पति तक, ये कहानियां  परिवारों के जुड़ाव की है। निश्चित रूप से ये कहानियां इस नेक कार्य के लिए आगे बढ़ने के लिए अधिक लोगों को प्रेरित करती है।

सम्मान कार्यक्रम के बाद डाइस मैनेजमेंट पर एक सत्र आयोजित किया गया, जिसमें ट्रांसप्लांट से पहले और बाद में मरीजों को क्या करना चाहिए और क्या नहीं, इसकी जानकारी दी गई ।

Post a comment

 
Top