0

मुंबई - भारत में अपनी व्यावसायिक मजबूती और बाजार बढ़ाने के लिए, ताइवान एक्सटरनल ट्रेड डेवलेपमेंट काउंसिल (टीएआईटीआरए) ने ताइवान प्रोडक्ट सेंटर (टीपीसी) की शुरूआत की है।अपने उत्पादों को और आगे बढ़ाने के लिए, टीपसी अपने आधुनिक उत्पादों और तकनीक को अपने दिल्ली ,चेन्नई और मुंबई केंद्रों पर प्रदर्शित करने जा रही है। ताइवान की योजना अगले पांच वर्षों में 20 करोड़ तक का व्यवसाय करने की है, और दोनों देशों के बीच व्यवसाय बड़े स्तर पर बढ़ाने की कोशिश करने की है।

इन प्रोडक्ट सेंटर में ताइवान की प्रसिद्ध कंपनियों के उत्पाद प्रदर्शित किए जा रहे हैं, जिससे उपभोक्ताओं को बड़े स्तर पर विभिन्न नए उत्पादों को एक ही जगह पर प्राप्त करने की सुविधा रहेगी।

टीपीसी मुंबई में तमाम तरह के उत्पादों को ताइवान की कई कंपनियां प्रदर्शित कर रही हैं, इनमें आटोमोबाइल पार्ट के सेक्टर से लेकर बिजली के वायर तक और स्किनकेयर तक के उत्पाद हैं। इन कंपनियों में परमानेंट फेराइट मैग्नेट और एनडीफेब मैग्नेट की अग्रणी कंपनी मैगटेक मैग्नेटिक है। इसके अलावा, प्यूमा है जो कई प्रकार के एयर कंप्रेशर, एयर टूल, प्रेशर वैसेल्स और उससे संबंधित एसेसरी-स्पेयर पार्ट दुनिया भर में आपूर्ति करती है, इसके उत्पाद 136 देशों में बिकते हैं और अब यह भारत में कारोबार शुरू करने जा रही है। फिर, ता या इलेक्ट्रिक वायर एंड केबल कंपनी लिमिटेड है, जिसको विभिन्न तरह के मैगनेट वायर,फ्लैट वायर और टीआईएलडब्लू बनाने का व्यापक अनुभव है, इसका उपयोग तमाम तरह के औद्योगिक गतिविधियों , उपभोक्ता उत्पादों, आटोमोबाईल, इलेक्ट्रोमेकेनिकल उपकरणों और इलेक्ट्रानिक्स में होता है। 

एसवैल इंटरनेशनल कंपनी लिमिटेड, को इलेक्ट्रिक 2 व्हीलर्स और 3 व्हीलर्स और मोटरसाइकल के स्पोडोमीटर की डिजाइनिंग और उत्पादन में महारथ हासिल है। एकोन की सहायक कंपनी, एडवांस्ड कोनेटेक, इलेक्ट्रिक मोटर साइकिल के चार्जर (प्लग और रिसपेक्टेकल) के अलावा, स्कूटर और मोटर साइकिल के केबल के उत्पादन में अग्रणी माना जाता है। फोरमोसा कंपनी इलेक्ट्रिक बाइक बैटरी पैक्स निर्माण के लिए मशहूर है।  टाटुंग एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड, एल्यूमिनियम के एक्सट्रूजन दरवाजे और खिड़कियों के उत्पाद बनाने के लिए जानी जाती है। यूनीकेयर बायोटेक्नोलाजी कोआपरेशन, त्वचा (स्किन केयर) संबंधी उत्पादों जैसे टोनर, लोशन, क्रीम, फेसियल मास्क और तमाम माइसचराइजिंग,बाडी केयर और एंटी एयजिंग के उत्पाद बनाती है।

ताइवान प्रोडक्ट सेंटर के बारे में बोलते हुए, ताइपेई वर्ल्ड ट्रेड सेंटर, मुंबई के निदेशक श्री एलेक्स पेन, ने कहा, “इस समय तमाम उद्योग पैंडमिक लाकडाउन के बाद फिर से खड़े होने की तैयारी में हैं, ऐसे में यह जरूरी  हो जाता है कि नए समय के मुताबिक , नियमों और मांग के आधार पर व्यावसायिक रणनीति बनाई जाए।अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए, स्मार्ट साल्यूशन, डिजिटल और नई तकनीकी के इस्तेमाल की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी।भारत एक ऐसा बाजार है जो फिर से खड़ा होने की तैयारी में है और वह पहले से ही स्मार्ट देश बनने की दिशा में बढ़ रहा है। टीपीसी, ताइवान के कंपनियों के लिए एक ऐसा माध्यम है जो भारतीय कंपनियों के साथ,इस बदलाव की यात्रा में,अपना सबसे अच्छा साल्यूशन और तकनीक का सहयोग कर सकता है।ताइवान की नई नीति के तहत भारत के कंपनियों पर तगड़े से ध्यान दिया जाना है, इससे दोनों देशों के बीच परस्पर व्यावसायिक रिश्तों को मजबूत बनाने में मदद मिलेगी।

ताइवान एशिया का अग्रणी व्यावसासिक केंद्र है। पिछले कुछ वर्षों में यह टापू वाला देश बायोटेक्नालाजी से लेकर आर्टीफिशियल इंटेलिजेंस तक के क्षेत्र में अपनी दक्षता सिद्ध कर चुका है, अपनी साख बना चुका है।टीएआईटीआरए, ताइपेई वर्ल्ड ट्रेड सेंटर (टीडब्लूटीसी) और ताइवान ट्रेड सेंटर (टीटीसी) के बाद,  ताइवान का अग्रणी गैर लाभकारी व्यवसाय को सहयोग देने वाला संगठन है, जिसका विश्व स्तरीय नेटवर्क है और विश्व में व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए पूरी तरह से समर्पित है।

Post a comment

 
Top