0

मुंबई : फाइजर इंक के कोरोना वायरस वैक्सीन के सफल परीक्षण के बाद की उम्मीदें और सेफ्टी को लेकर कोई चिंता नहीं रहने से सोना और कच्चे तेल की कीमतों को समर्थन मिला। एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के नॉन एग्री कमोडिटी एंड करेंसी रिसर्च एवीपी प्रथमेश माल्या ने बताया कि ग्लोबल केंद्रीय बैंकों ने महामारी के पहले के स्तर पर देशों के इकोनॉमिक रिवाइवल को लाने के लिए सक्रियता दिखाई और इसने कमोडिटी कीमतों का समर्थन किया। 

सोना: ग्लोबल केंद्रीय बैंकों ने अतिरिक्त स्टिमुलस सहायता की उम्मीद के बीच स्पॉट गोल्ड 0.8% से अधिक की बढ़त के साथ 1876.5 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ, जिसने पीली धातु की अपील को बढ़ाया। केंद्रीय बैंकों से अपेक्षा है कि वे इकोनॉमी को महामारी के पूर्व स्तर पर लाने में मदद करते रहेंगे, जिससे सेफ हैवन सोने को बढ़त हासिल करने में मदद मिली। अमेरिका और यूरोप में कोविड-19 मामलों में खतरनाक वृद्धि ने पीली धातु की कीमतों का समर्थन किया।

फाइजर इंक के कोविड-19 वैक्सीन की उम्मीदों से निवेशकों में आशावाद प्रेरित हुआ है और इसने पहले सोने की कीमतों में गिरावट लाई थी। वैक्सीन के सफल परीक्षण और सुरक्षा से जुड़ी कोई चिंता न होने से मार्केट प्लेयर्स के में कोरोनोवायरस को रोकने का वैक्सीन प्राप्त करने की उम्मीद बढ़ गई है।

कोरोनोवायरस के खिलाफ युद्ध लड़ने के लिए वैश्विक केंद्रीय बैंकों की ओर से आगे प्रोत्साहन सहायता की उम्मीदें आगे सोने की कीमतों का समर्थन कर सकती हैं। आज के कारोबारी सत्र में सोने की कीमतें एमसीएक्स पर अधिक होने की उम्मीद है।

कच्चा तेल: डब्ल्यूटीआई क्रूड 2.6% बढ़कर बंद हुआ और महामारी से लड़ने के लिए संभावित वैक्सीन के बीच $41.4 प्रति बैरल पर बंद हुआ, जिसने बाजार की भावनाओं को और बढ़ाया। हालांकि, कोरोनोवायरस के मामलों में वृद्धि के साथ-साथ लॉकडाउन के नए प्रावधानों और लीबिया से तेल उत्पादन में वृद्धि ने लाभ को सीमित रखा।

पेट्रोलियम निर्यातक देशों के संगठन (ओपेक) और उसके सहयोगी जनवरी-21 में तेल उत्पादन को मौजूदा 7.7 मिलियन बैरल प्रति दिन में 2 लाख बैरल प्रतिदिन की दर से गिरावट बढ़ाने को तैयार हैं। हालांकि, तेल बाजारों को संरेखित करने और वैश्विक तेल बाजार में मांग की धूमिल संभावनाओं से कुछ उत्पादन परिदृश्यों के बदलाव का आकलन किया गया।

फाइजर इंक के संभावित वैक्सीन से जुड़ी उम्मीदों बीच कमजोर डॉलर ने तेल की कीमतों को बढ़ाया। हालांकि, वैश्विक मांग की कमजोर संभावनाओं के बीच लीबिया के तेल उत्पादन में वृद्धि से लाभ सीमित के दायरे में रह सकता है। आज के कारोबारी सत्र में तेल की कीमतें एमसीएक्स पर अधिक होने की उम्मीद है।

Post a comment

 
Top