0

टिप्स म्यूज़िक और बाबुल सुप्रियो ने त्योहारों के चलते "तेरा शुकर शुकर" गीत का आयोजन किया जिसे सुनने वालो के दिलों, दिमागों में ज्ञान और लोगों में सच्चाई का दीपक जलाया।

बाबुल सुप्रियो इस गीत के ज़रिए अपनी भावनाये परमेश्वर के प्रति व्यक्त कर रहे हैं। 

बाबुल सुप्रियो का गीत "तेरा शुकर शुकर" यह एक ऐसा गीत है जो मन को शांत करता है और खुद को परम पिता से मिलवाता है।

कुमार तौरानी का कहना है "हम सब ऐसी दुनिया मैं रहते है जहाँ रोज की भागम भाग भरी ज़िंदगी मैं हम कहीं खोते जा रहे है। जिसके बावजूद हमारे पास समय न होने के कारन हम ईश्वर को धन्यवाद प्रदान नहीं करते। "तेरा शुकर शुकर" यह गीत न केवल आपका मन मोह लेगा बल्कि यह विश्वास और भक्ति का प्रतिक है। यह सबसे अच्छा तरीका है जिसे हम सब एक साथ ईश्वर की भक्ति में जुड़ पाएंगे। यह आपकी आत्मा को काफी ख़ुशी देगा। 

बाबुल सुप्रियो कहते है "यह गीत मुझे इसलिए नहीं पसंद क्योंकी इस गीत मैं संगीत और वीडियो लाजवाब है। यह मुझे इसलिए पसंद है क्योंकी इस गीत ने मुझे अपनी सादगी से जुड़ा रखा है। "आई, मी माइसेल्फ" ना मैंने कभी कोई धार्मिक काम किया है और ना ही कभी मैंने कोई भजन गाया है। मुझे गाने की क्षमता भगवान की ओर से उपहार के रूप मैं मिली है और मैं इसका काफी शुक्रगुज़ार हूँ। इसलिए जीवन के इस शानदार उपहार के लिए ईश्वर को आभार व्यक्त करने के लिए यह गीत बहुत खास है। चल रही महामारी के समय सभी के लिए हमारी यह प्रार्थना है। अनु मालिक जी, समीर जी और निश्चित रूप से टिप्स म्यूजिक के कुमार तौरानी जी के साथ मुझे काम करके काफी आनंद प्राप्त होता है। इनके साथ मेरा सफर काफी लंबे समय से जुड़ा हुआ है। मेरा तजुर्बा हमेशा इनके साथ काफी मज़ेदार रहा है।"

अनु मलिक कहते हैं "हम भगवान का आभार प्रकट करते हैं। उन्होंने इस महामारी से हम सभी को सुरक्षित रखा और हमे मार्गदर्शन दिया। इस उत्सव के मौसम में मैंने शानदार गीत पेश किया। आशा करता हूँ कि आप सभी को यह गीत काफी पसंद आएगा।

समीर अंजान कहते हैं "यह गीत मेरे दिल के बहुत ही ज़्यादा करीब है। इस गीत मैं न केवल शब्दो का देर है बल्कि इस गीत के शब्दो का बहुत ही ज़्यादा महत्व है। मैं आप सभी को शुभ त्योहार के मोके पर बहुत-बहुत शुभकामनाएँ देना चाहता हूँ। 

Post a comment

 
Top