0

दिनांक - 17.10.2020 को शाम 6 से 7.30 बजे तक काव्य सृजन महिला मंच, राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय साहित्यिक - सामाजिक - सांस्कृतिक संस्था की दक्षिणी दिल्ली इकाई द्वारा मां भवानी के नवरात्रि के शुभारंभ के अवसर पर टेन न्यूज़ चैनल के माध्यम से ऑन लाइन, लाइव सांस्कृतिक कार्यक्रम के अंतर्गत बहुत ही यादगार और शानदार एक से बढ़कर एक लाइव परफॉर्मेंस का आयोजन किया गया। 

  इस शानदार कार्यक्रम का बहुत बढ़िया संचालन डॉ अनुराधा शर्मा, अध्यक्षा, काव्य सृजन महिला मंच दक्षिणी दिल्ली इकाई द्वारा किया गया और सभी नौ कन्याओं अर्थात नौ महिला प्रतिभागियों द्वारा अपनी - अपनी बहुत ही बेहतरीन प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम की शुरुआत डॉ अनुराधा शर्मा ने अपने मधुर कंठ से मां सरस्वती की स्तुति करते हुए की। उसके बाद रिद्धिमा शर्मा, भरतनाट्यम नृत्यांगना ने अपने खूबसूरत भरतनाट्यम नृत्य प्रस्तुति से सबका मन मोह लिया। दूसरे नंबर पर दिव्या पांडेय, संगीत विशारद ने इक दिल है इक जान है ..गीत पर खूबसूरत नृत्य प्रस्तुत किया। तीसरे स्थान पर डॉ संगीता शर्मा अधिकारी, काव्य सृजन महिला मंच की राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्षा ने दो गानों पर डांस किया।

पहला कुमाऊनी गाना " हाय तेरी रुमाला " और दूसरा हरियाणवी गाना  " गजबन पाणी ले चाली "। दोनों ही नृत्य बहुत सुंदर और ऊर्जा से भरपूर थे। इस प्रस्तुति से उन्होंने दिखा दिया कि न उम्र, न वजन, न और कोई भी सीमा मायने रखती है- बस इच्छाशक्ति, लगन और संकल्पबद्धता ही एकमात्र मूल मंत्र है जिंदगी में कुछ भी करने के लिए।

बीच बीच में डा.अनुराधा शर्मा के उत्साहवर्धक शब्दों से कार्यक्रम और प्रतिभागियों की प्रस्तुति देखते ही बनती थी।

अगली प्रतिभागी रहीं श्रीमती संजना तिवारी जो एक हिन्दी अध्यापिका है तथा काव्यसृजन महिला मंच, कोलकाता ईकाई की अध्यक्षा भी है। संजना ने पद्मावत फिल्म के 'होरी आयी रे पिया जी के देश रे' पर मनमोहक नृत्य किया।

लगन और ऊर्जा इंसान से जो ना करा ले वह कम है। इसी का प्रमाण रहा श्रीमती अलका त्यागी का राजस्थानी फिल्मी गीत ' थाणे काजलियो बणा ल्यूं..' पर शानदार नृत्य। उम्र के छठे दशक में अपने प्रधानाचार्या पद को भुलाकर एक अच्छे नृत्यप्रेमी की मिसाल रहा अलका‌ त्यागी का डांस।

डॉ. अनुराधा शर्मा ने पुन: मंच पर आमंत्रित किया कत्थक डांसर श्रीमती मोनालिसा मुखर्जी, कत्थक लखनऊ घराना व सामाजिक कार्यकर्ता को जिन्होंने अपनी शानदार नृत्य प्रस्तुति दी । गाने के बोल थे 'होरी आयी रे पिया जी के देश रे..'

अगली प्रस्तुति के लिए आमंत्रित किया गया डॉ मीनाक्षी गुप्ता को। डॉ मीनाक्षी दिल्ली शिक्षा निदेशालय में कला अध्यापिका हैं साथ ही उन्हें नृत्य के प्रति विशेष लगाव है। उन्होंने अपने गीत 'तुम जो आए जिंदगी में बात बन गयी' पर बहुत खूबसूरत नृत्य प्रस्तुत करके सबका मन मोह लिया।

अंतिम प्रस्तुति के लिए मंच पर आयीं कविता शरद विश्वकर्मा जो कवियित्री और लेखिका के साथ मध्यप्रदेश लेखक संघ की भी सदस्या हैं। कविता ने सबसे अलग गढ़वाली लोकनृत्य "फ्वा बागारे" की अत्यन्त मोहक नृत्य प्रस्तुति करके दर्शकों का मन मोह लिया।

इस प्रकार नवरात्रि पर्व के शुभारंभ की खुशी में काव्य सृजन महिला मंच, दक्षिणी दिल्ली का यह कार्यक्रम एकदम सफल और शानदार रहा।

पूरे कार्यक्रम को डाॅ अनुराधा शर्मा ने कईं दिन से तबियत खराब होने के बावजूद भी अपने मोहक और प्रभावशाली अंदाज में बाखूबी संभाला।

इसके बाद उन्होंने धन्यवाद ज्ञापन के लिए डाॅ संगीता शर्मा अधिकारी को आमंत्रित किया। जिन्होंने सभी प्रतिभागियों को सराहा और उनका उत्साहवर्द्धन करते हुए सभी सम्मानित प्रबुद्ध प्रतिभागी महिलाओं को उनकी उपस्थिति और उनकी सहभागिता के लिए आभार ज्ञापित किया और यह घोषणा भी की कि जैसे ही इस कोरोनावायरस महामारी से हमें निजात मिलेगी और स्थितियां सामान्य होंगी पहले की तरह जीवन चलायमान होगा तो काव्य सृजन महिला मंच बहुत जल्द एक बड़े और व्यापक स्तर पर एक शानदार कार्यक्रम का आयोजन करेगा जिसमें सभी की उपस्थिति रहेगी तत्पश्चात उन्होंने 10 न्यूज़ चैनल का विशेष धन्यवाद दिया जिन्होंने इस कार्यक्रम के आयोजन में बैनर बनाने से लेकर उसके एग्जीक्यूशन निष्पादन तक में अपना अथक परिश्रम दिया।

 अपने वक्तव्य के अंत में डॉ संगीता शर्मा अधिकारी राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्षा काव्य सृजन महिला मंच राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय साहित्यिक सामाजिक सांस्कृतिक संस्था द्वारा मंच संचालन के लिए डॉ अनुराधा शर्मा, अध्यक्षा काव्य सृजन महिला मंच, दक्षिणी दिल्ली को विशेष रूप से धन्यवाद दिया कि उन्होंने अपनी अस्वस्थता के बावजूद इस बहुत ही शानदार कार्यक्रम के आयोजन के साथ ही काव्य सृजन महिला मंच की दक्षिणी दिल्ली इकाई का भी शुभारंभ किया। काव्य सृजन महिला मंच महिलाओं की संस्था द्वारा नवरात्रि के इन शुभ व पावन दिनों में महिलाओं के ही माध्यम से, हम सभी शक्ति स्वरूपा के माध्यम से इस प्रकार का आयोजन निसंदेह यह काव्य सृजन महिला मंच की दक्षिणी दिल्ली इकाई का बहुत ही सराहनीय और प्रशंसनीय प्रयास रहा जिसके लिए डॉ अनुराधा शर्मा, अध्यक्षा काव्य महिला मंच, दक्षिणी दिल्ली शाखा को बहुत-बहुत बधाई और हार्दिक शुभकामनाएं।

काव्य सृजन महिला मंच की राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्षा डॉ संगीता शर्मा अधिकारी के धन्यवाद ज्ञापन के साथ ही काव्य सृजन महिला मंच द्वारा एक बहुत ही यादगार और शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रम सफलतापूर्वक संपन्न हुआ।

Post a comment

 
Top