0

अभिनेत्री उर्वशी उपाध्याय ने 2008 में "हमारी देवरानी" से अपने अभिनय की शुरुआत की था। एक दशक से अधिक समय तक इंडस्ट्री में रहने के बाद, उन्हें लगता है कि सोशल मीडिया ने टीवी इंडस्ट्री को बेहद प्रभावित किया है।
पिछले एक दशक में इंडस्ट्री कैसे बदल गयी है, इस बारे में बात करते हुए, उन्होंने कहा, "मुझे याद है कि जब मैंने 2008 में शुरू किया था, तो कोई इंस्टाग्राम नहीं था, उस वक़्त फेसबुक भी नया नया आया था। फेसबुक पर कुछ भी अपलोड करना काफी परेशानी भरा था। जिस वजह से दर्शकों को टीवी शो और चैट शो के माध्यम से अभिनेताओं के बारे में पता चलता था, लेकिन अब सब कुछ ओपन है, अपने पसंदीदा एक्टर्स के बारे में लोग कुछ भी देख सकते हैं, कुछ भी जान सकते हैं, बस एक क्लिक के साथ इसलिए मुझे लगता है कि सोशल मीडिया ने टीवी स्पेस को बदल दिया है।
उन्होंने आगे कहा कि अब वे शिफ्ट में काम करते हैं लेकिन पहले पैक-अप के लिए कोई निश्चित समय नहीं होता था।
"हमारे पास तब केवल कॉल का निश्चित समय हुआ करता था, लेकिन पैक-अप के लिए कोई निश्चित समय नहीं था, क्योंकि हम एक टाइट शेड्यूल पर चलते थे। आज शिफ्ट के अनुसार शेड्यूल बनाया जाता है। इसे आसान बनाने के लिए शेड्यूल के अनुसार टारगेट निर्धारित किए जाते हैं। उन दिनों कहानियों को इतनी खूबसूरती से बुना जाता था कि हर किरदार समान रूप से महत्वपूर्ण था और शो के हर चरित्र के लिए एक मजेदार तत्व होता था। लोग एक चरित्र को देखने के लिए आते थे। लेकिन अब सोशल मीडिया की वजह से सब कुछ पहले ही मालूम पड़ जाता है। समाचार एक सेकंड के भीतर फ्लैश हो जाता है।
उर्वशी वर्तमान में टीवी शो "इश्क सुभान अल्लाह" में नजर आ रही हैं। वह बेगम नूरजहाँ की भूमिका में हैं, जो एक संगीत हीलर है, जिसने अपने संगीत के साथ ईशा सिंह द्वारा निभाई गई मुख्य भूमिका ज़ारा को ठीक किया है। अपनी भूमिका के बारे में अधिक जानकारी साझा करते हुए उन्होंने कहा, "मेरा किरदार मुख्य अभिनेत्री, ज़ारा जो अधमरी हालात में है,उससे मिलती है और उसे ठीक होने में मदद करती है।  

Post a comment

 
Top