0

 राष्ट्रीय साहित्यिक, सामाजिक व सांस्कृतिक संस्‍था काव्‍यसृजन की मासिक काव्‍यगोष्‍ठी श्री कृष्ण ट्‍यूटोरियल जैसलपार्क भाईन्‍दर (ईस्ट) में पूर्व प्रधानाचार्य कवि हौंसिला प्रसाद "अन्‍वेषी" की अध्‍यक्षता में व मुख्‍य अतिथि डॉ उमेश शुक्ल, व्‍यंगकार रमेश श्रीवास्‍तव की उपस्‍थिति में तथा गजलकार एन बी सिंह नादान के संचालन के साथ ही साथ डॉ वर्षा सिंह द्‍वारा सरस्वती वंदना के साथ संपन्न हुई। जिसमें मार्गदर्शक आ0 हौंसिला प्रसाद "अन्‍वेषी"जी व संगठन मंत्री अल्हड़ असरदार का जन्मदिन मासिक काव्यगोष्ठी व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। संस्‍था ने उपरोक्‍त दोनों विभूतियों को शाल, श्रीफल व पुष्‍पगुच्‍छ प्रदान कर जन्मदिन की बधाई व शुभकामनाएँ दी।इसके बाद सभी कवि मित्रों व कवयित्रियों ने साहित्यिक बधाई व शुभकामनाएँ दीं। कवियों में प्राध्‍यापक अंजनी कुमार द्विवेदी, स्‍वामीनाथ पाठक, सागर यादव जख्‍मी, मूर्द्धन्य पूर्वांचली, शिक्षक लालबहादुर यादव 'कमल', डॉ सरस पाण्‍डेय, श्रीनाथ शर्मा, विरेन्‍द्र यादव, अल्हड़ असरदार, हौंसिला प्रसाद अन्‍वेषी, ओमकार नाथ मिश्र, वी. एन.मिश्र, अवधेश यादव, श्रीराम शर्मा, अमित कुमार दूबे, रमेश श्रीवास्तव, रवि यादव, डॉ जे.पी.बघेल, उपेन्द्र पाण्डेय, एन बी सिंह नादान, आशीष अनोखा उपस्थित थे। मूर्द्धन्य पूर्वांचली जो कि संस्‍था के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष भी हैं, ने अपनी सशक्‍त व ओजपूर्ण रचनाओं से शाम को काव्‍यमयी बना दिया। कवयित्रियों ने भी अपनी सारगर्भित रचनाओं से खूब समाँ बाँधा। उपस्थित कवयित्रियों में काव्‍यसृजन महिला मंच महाराष्ट्र ईकाई की अध्‍यक्षा सौ.इंदू मिश्रा, महासचिव सौ.सुमन तिवारी, कोषाध्यक्ष डॉ वर्षा सिंह, डॉ मृदुल तिवारी 'महक' ने सबको भाव विभोर कर दिया।
 अंत में संस्‍था के राष्‍ट्रीय महासचिव लालबहादुर यादव 'कमल' ने आए हुए सभी अतिथियों कवि कवयित्रियों का आभार व्‍यक्‍त किया।

Post a comment

 
Top