0
आज-कल देश में कठुआ और उन्नाव रेप और मर्डर केस की चर्चा जोरो शोरो से चल रही है। रेप और मर्डर पर आधारित हिन्दी फिल्म गेम ओवर (खेल ख़तम) की स्टोरी ऐसी ही घटनाओ को समाज के सामने लाती है। इस फिल्म में नायिका सनाया सावित्री के साथ गैंग-रैप होता है। लेकिन सनाया अपने साथ हुए इस अन्याय को अपने बिंदास स्वभाव के हिसाब से जवाब देती है; और बलात्कारीओ का जीना हराम कर देती है।  इस फिल्म के राइटर और डायरेक्टर परेश विनोदराय सवानी है।
 परेश सवानी के मुताबिक़ इस फिल्म की कहानी ने अखबार में आनेवाली हेड-लाइन से जन्म लिया है। गैंग-रेप और हत्या की घटनाएं आये दिन न्यूज़ की सुर्ख़ियों में रहती है और यह हमारे लिए बड़ी चिंता का विषय है। एक औरत की मर्ज़ी के खिलाफ कोई भी हरक़त सभ्य समाज के लिए घातक है। और आज के दौर में हर औरत को सनाया सावित्री की तरह अन्याय के खिलाफ मजबूती से आवाज़ उठानी चाहिए।
गेम ओवर (खेल ख़तम) फिल्म की एक और ख़ास बात उसके दमदार डायलोग है जो दर्शको को तालियाँ बजाने के लिए मजबूर कर देंगे। मंजे हुए कलाकार राजेश शर्मा, यशपाल शर्मा, गुरलीन चोपरा और राकेश बेदी ने अपनी अदाकारी से फिल्म को एक नए मुकाम पर पहुचाया है। एक तरफ जहाँ अनुभवी कलाकार राजेश शर्मा और राकेश बेदी का गुरलीन चोपरा के साथ बोल्ड सीन है तो दूसरी तरफ यशपाल शर्मा के बोल्ड डायलॉग जो शायद पहली बार सिनेमा के परदे पर देखने-सुनने को मिलेंगे। गेम ओवर का संगीत भी फिल्म का एक अहम् हिस्सा है जो दर्शको को नाचने-गुनगुनाने के लिए मजबूर कर देगा।
ड्रीम मशीन प्रा.लि., कोनिंग एंटरटेइमेंट और ड्रीम इंटरनेशनल के बैनर पर बनी फिल्म गेम ओवर (खेल ख़तम) के निर्माता  डी.वासु, ब्रिजेश ठक्कर और परेश विनोदराय सवानी हैं ।  राजेश शर्मा, यशपाल शर्मा, गुरलीन चोपरा, राकेश बेदी, उमेश बाजपाई, फाल्गुनी राजानी, प्रसाद शिकरे, अरहाम अब्बासी, जीशान खान, अली मुग़ल, तेतिआना खार्क्विच और प्रवेशिका चौहान की दमदार अदाकारी से भरी 100% मनोरंजन का दावा करने वाली हिन्दी फिल्म गेम ओवर (खेल ख़तम) पूरे देश में 4 मई को दस्तक दे रही है।

Post a comment

 
Top