0

आशा भोंसले, गुलाम अली खान, राहत फतेह अली खान, सुल्तान खान, कुमार शानु, उदित नारायण, विनोद राठौड़, अलका याग्निक, कविता कृष्णमूर्ति, साधना सरगम, सुनिधि चौहान, ऋचा शर्मा, सपना अवस्थी, अनुराधा पौडवाल, कुणाल गांजावाला, जावेद अली, जुबीन गर्ग, शान, अली कुली, अल्तमश फरीदी, अमन त्रिखा, अल्ताफ राजा, ममता शर्मा, श्वेता पंडित, पलक मुच्छल, पामेला जैन और कल्पना पोटवारी जैसे सिंगर्स को अपनी धुनों पर गवा चुके संगीतकार राजा अली उन प्रतिभाशाली संगीतकारों में से एक हैं, जिन्हें म्यूजिक की समझ विरासत में मिली है।

हिंदुस्तान के मशहूर संगीतकार गुलाम अली के पुत्र राजा अली इन दिनों बॉलीवुड के व्यस्त संगीतकार हैं। उन्होंने अबतक 8 फिल्मो का संगीत दिया है। उनकी फिल्मो में 'आइडेंटिटी कार्ड, इमपेशेंट विवेक, आखरी सौदा, रणभूमि इत्यादि शामिल हैं। उनकी आने हिंदी फिल्म 'रहम दिल कातिल' और 'मराठी फिल्म 'हीरो' है। राजा अली ने हाल ही में अपनी आने वाली एक फ़िल्म के लिए पलक मुच्छल, अल्तमश फरीदी, अमन त्रिखा की आवाज़ों में गाने रिकॉर्ड किये हैं। राजा अली ने अल्बमो की दुनिया मे एक बड़ा नाम पैदा किया है। उन्होंने गुलाम अली खान साहब का अल्बम 'हसरतें' कम्पोज़ किया था। जिसमे कविता कृष्णमूर्ति की आवाज़ थी। कुणाल गांजावाला का अल्बम 'तेरे बिना' कम्पोज़ किया था जिसे यूनीवर्सल से जारी किया गया था। कुमार शानु, कुणाल गांजावाला और कल्पना की आवाज़ में निकला टी सीरीज़ का अल्बम "सोनिये आई लव यू" भी उन्होने कम्पोज़ किया। राजा अली को विनोद राठोड़ के अल्बम "ये पल" को भी कम्पोज़ करने का मौका मिला जिसके वीडियो में रश्मि देसाई थी । कुमार शानु का सोलो अल्बम 'फ्यूज़न' और गुलाम अली खान साहब का अल्बम 'ज़िक्र' भी उन्होंने कम्पोज़ किया। कविता कृष्णमूर्ति के अल्बम 'दिल की आवाज़' को भी राजा अली ने अपनी धुनों से सजाया था।अपने पिता से संगीत की तालीम हासिल करने वाले राजा अली ने अमर हल्दीपुरकर के छोटे भाई अरविंद हल्दीपुरकर से गिटार सीखा। राजा अली ने मात्र दस साल की उम्र में पहली बार शो में गिटार बजाया था। उसके बाद तो लाइव शोज़ से उनका गहरा रिश्ता हो गया है। वह कई फिल्मों के लिए म्यूजिक कंपोज कर रहे हैं।



         

Post a comment

 
Top